Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > हत्या की सुपारी लेने वाला फरार आरोपी गिरफ्तार

हत्या की सुपारी लेने वाला फरार आरोपी गिरफ्तार

हत्या की सुपारी लेने वाला फरार आरोपी गिरफ्तार

भोपाल। छोला मंदिर थाना पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर छोल मंदिर के हत्या, आम्र्स एक्ट सहित करीब एक दर्जन से अधिक अपराधों में आरोपी फरार आरोपी दरबार उर्फ रोहित उर्फ पूरन को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने एक व्यक्ति की हत्या की सुपारी ली थी। मुखबिर ने आरोपी के खड़े होने की सूचना पुलिस को दी थी। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने घेराबंदी कर बदमाश को पकडऩे का प्रयास किया। पुलिस को देखकर बदमाश ने भागने का प्रयास किया। आरोपी को पकड़कर पुलिस ने तलाशी ली तो उसके पास धारदार छुरी मिले। पुलिस ने आरोपी से छुरी जब्त कर उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अलग से अपराधिक प्रकरण दर्ज कर लिया। पुलिस के अनुसार आरोपी विगत दो वर्षों से फरार था। उसके खिलाफ बैरसिया थाने में एक दर्जन से अधिक अपराध पंजीबद्ध हैं।

विगत 3 अक्टूबर 2016 को छोला मंदिर थाना पुलिस को मुखबिर से एफसीआई माल गोदाम के पास दो बदमाशों के छुपे होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने घेराबंदी कर दोनों बदमाशों को गिरफ्तार किया। नाम पता पूछने पर आरोपियों ने अपने नाम निहाल सिंह पिता कमलसिंह राजपूत निवासी विदिशा और आशीश साहू निवासी नवजीवन कॉलोनी छोला मंदिर बताए। तलाशी लेने पर पुलिस को इनके पास से एक 32 बोर की लोडेड पिस्टल तथा एक स्टील की धारदार छुरी मिली। पूछताद में अरोपियों ने पुलिस को बताया कि सौरभ चतुर्वेदी निवासी कमलानगर भोपाल ने उन्हें एक लाख रुपये में धीरन्द्र सक्सेना निवासी शिवनगर छोला मदिर की हत्या की सुपारी दी है। धीरेन्द्र सक्सेना की हत्या के उद्देश्य से ही आरोपी वहां छुपे थे। पुलिस ने आरोपियों के विरुद्ध भादंवि की धारा 115,116, 120 बी, 34, 302 एवं आम्र्स एक्ट की धारा 25बी के तहत अपराधिक प्रकरण दर्ज कर लिया। आरोपी सौरभ चतुर्वेदी को उच्च न्यायालय से अग्रिम जमानत मिल गई। धीरेन्द्र सक्सेना जो भारतीय सेना से सेवानिवृत्त है जो उस समय सौरभ चतुर्वेदी की सुरक्षा एजेंसी में काम करता था, उसमें सौरभ चतुर्वेदी द्वारा वेतन एवं पीएफ की राशि हड़पने के कारण थाना कमलानगर में शिकायती आवेदन भी दिया था। जांच के बाद सौरभ चतुर्वेदी, अर्जुन सिंह एवं एसपीएस सिखावत के विरुद्ध धारा 420, 467, 468, 34 भादंवि के तहत अपराधिक प्रकरण दर्ज किया गया था। इसमें आरोपी सौरभ चतुर्वेदी जेल भी गया, इस बात की रंजिस पर आरोपी सौरभ चतुर्वेदी ने धीरेन्द्र सक्सेना की हत्या की सुपारी दी थी, जो बुधवार को गिरफ्तार हुए आरोपी दरवार उर्फ रोहित उर्फ पूरन पुत्र रामभरोसे निवासी भानपुर थाना छोला मंदिर भोपाल को दी गई थी।

Naveen ( 1230 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top