Home > राज्य > मध्यप्रदेश > भोपाल > एमपी : 10 हजार से अधिक बच्चे पाए गए कुपोषित, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

एमपी : 10 हजार से अधिक बच्चे पाए गए कुपोषित, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

एमपी : 10 हजार से अधिक बच्चे पाए गए कुपोषित, रिपोर्ट में हुआ खुलासा

भोपाल। मध्यप्रदेश में गत 10 जून से आगामी 20 जुलाई तक चल रहे दस्तक अभियान की मंगलवार को एक रिपोर्ट जारी हुई है, जिसमें खुलासा हुआ है कि प्रदेश में 10 हजार से अधिक बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। इसके अलावा अन्य बीमारियों से पीड़ित बच्चों को भी चिन्हित किया गया है, जिन्हें बेहतर उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है।

दस्तक अभियान की राज्य नोडल अधिकारी डॉ. प्रज्ञा तिवारी ने मंगलवार को अभियान की प्रगति रिपोर्ट मीडिया को जारी की, जिसमें उन्होंने बताया कि दस्तक अभियान के अंतर्गत अब तक आंगनबाड़ी और सरकारी संस्थाओं से जुड़े स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं ने घर-घर पहुंचकर 29.61 लाख बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया और उनमें से 10 हजार सात सौ 36 बच्चे गंभीर कुपोषण के शिकार पाए गए। उन्होंने बताया कि गंभीर रूप से कुपोषित बच्चों में से दो हजार चार सौ आठ बच्चों को प्राथमिकता के आधार पर पोषण पुनर्वास केंद्रों में भर्ती कर उपचार दिया गया और उन्हें पोषण आहार दिया जा रहा है। वहीं, गंभीर एनिमिक (रक्ताल्पता) के चलते 539 बच्चों को रक्ताधान (ब्लड ट्रांसफ्यूजन) किया गया। निर्जलीकरण वाले छह हजार सात सौ 37 बच्चों को संस्थागत उपचार दिया गया।

नोडल अधिकारी ने बताया कि दलों ने जांच के दौरान 2351 बच्चों में जन्मजात शारीरिक विकृति की पहचान की। अब तक 9 माह से 5 वर्ष तक आयु के 23 लाख 39 हजार 862 बच्चों को विटामिन-ए की अनुपूरक खुराक दी गई। साथ ही 2 माह से कम उम्र के 1390 संक्रमित बच्चोंं की पहचान कर उन्हें उपचार दिया गया। उन्होंने बताया कि अभी प्रदेश में दस्तक अभियान जारी है और यह 20 जुलाई तक चलेगा। इस दौरान स्वास्थ्य कार्यकर्ता घर-घर दस्तक दे रहे हैं और कुपोषित व अन्य बीमारियों से ग्रसित बच्चों को चिन्हाकित कर उन्हें उचित उपचार मुहैया कराया जा रहा है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top