Home > MP Election 2018 > वाट्सएप ग्रुप में राजनीति दल की सूची डालना महंगा पड़ा

वाट्सएप ग्रुप में राजनीति दल की सूची डालना महंगा पड़ा

वाट्सएप ग्रुप में राजनीति दल की सूची डालना महंगा पड़ा

रतलाम। जिले के आलोट में एक शासकीय कर्मचारी द्वारा आचार संहिता लागू होने के बाद भी वाट्सएप ग्रुप पर राजनीतिक दल की सूची का मैसेज डालने पर अनुविभागीय एवं रिटर्निंग अधिकारी ने शनिवार को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है।

ज्ञात रहे कि विधानसभा निर्वाचन हेतु आचार संहिता लागू है, ऐसे में राजीव योगी जो ताल पटवारी के पद पर कार्यरत है। उन्होंने वाट्सएप ग्रुप में राजनीतिक दल की सूची का मैसेज डाल दिया। इस पर अनुविभागीय एवं रिटर्निंग अधिकारी चन्दरसिंह सोलंकी ने शनिवार को कारण बताओ नोटिस देकर पूछा है कि आपने एक जवाबदार शासकीय सेवक होते हुए भी इस प्रकार ग्रुप में मैसेज डाला, जो निर्वाचन अधिनियम 1951 की धारा एवं मध्यप्रदेश सिविल सेवा वर्गीकरण अधिनियम 1965 का उल्लंघन है। क्यों न आपके विरुद्ध निलंबन की कार्यवाही की जाए। इसके संबंध में अपना जवाब लिखित में तत्काल प्रस्तुत करें। जवाब प्राप्त न होने पर एक पक्षीय कार्यवाही की जाएगी।

Tags:    

Swadesh News ( 6285 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top