Home > Lead Story > महाराष्ट्र में सरकार बनाने की ओर हैं शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस : संजय राउत

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की ओर हैं शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस : संजय राउत

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की ओर हैं शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस : संजय राउत

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी के गठबंधन को लेकर शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि उनकी पार्टी के नेतृत्व में सरकार का गठन होगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवसेना का होगा और वह चाहेंगे कि अगले 25 साल तक मुख्यमंत्री शिवसेना का ही हो। उन्होंने कहा कि कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में सरकार चलेगी और राज्य हित को लेकर चलेगी। महाराष्ट्र के हितों के लिए काम करते रहेंगे। उन्होंने कहा कि सभी को साथ लेकर चलेंगे। जिनके साथ सरकार बनाने जा रहे हैं और उनका सरकार चलाने का काफी सालों का अनुभव है।

महाराष्ट्र में सरकार बनाने की कोशिश में जुटीं शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस पार्टी ने न्यूनतम साझा कार्यक्रम का मसौदा तैयार कर लिया है। तीनों दलों के वरिष्ठ नेताओं की गुरुवार को हुई बैठक में इस मसौदे को मंजूरी दी गई। अब इस मसौदे को तीनों पार्टियों के शीर्ष नेतृत्व के पास भेजा जाएगा।

संयुक्त बैठक के बाद शाम को पहली बार तीनों दलों के नेता मीडिया के सामने आए और न्यूनतम साझा कार्यक्रम का मसौदा तैयार करने की जानकारी दी। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे ने कहा कि बैठक में साझा कार्यक्रम पर विस्तार से बातचीत हुई और तीनों दलों में तमाम मसलों पर सहमति बनी है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी शिवसेना के नेताओं की एनसीपी और कांग्रेस के साथ बातचीत हुई थी, लेकिन कुछ मुद्दों पर एकराय कायम करना बाकी था। शिंदे ने कहा, 'दोबारा चुनाव न हो, इसलिए साझा कार्यक्रम बनाया गया है। इसे लेकर हम आगे जाएंगे। एनसीपी प्रमुख शरद पवार, शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी अब जल्द से जल्द इस मसौदे पर राज्य की जनता के हित में फैसला करेंगे।'

शिवसेना के सांसद संजय राउत ने गुरुवार को भारतीय जनता पार्टी से कहा कि वह उन्हें डराने या धमकाने की कोशिश न करें और शिवसेना को अपना राजनीतिक रास्ता चुनने दें। राउत ने मीडिया में कहा, "हम लड़ने और मरने के लिए तैयार हैं, लेकिन धमकी या जबरदस्ती की रणनीति को बदार्श्त नहीं करेंगे।" राउत भाजपा के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बीते लोकसभा चुनाव से पहले बंद दरवाजों के पीछे सत्ता के बंटवारे के फार्मूले पर की गई टिप्पणियों का जिक्र कर रहे थे। राउत ने कहा, "मैंने सुना कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का कहना है कि देवेंद्र फणनवीस ही महाराष्ट्र के अगले मुख्यमंत्री होंगे...यहां तक की सेना भी बार-बार दोहरा रही है कि उनका मुख्यमंत्री ही शपथ लेगा।"

वहीं शिवसेना के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा था कि मुख्यमंत्री के पद के साथ ही सेना को 50:50 की सत्ता-साझेदारी मिलने की बात हुई थी। हालांकि, शाह और फडणवीस ने इसे खारिज कर दिया और ठाकरे को झूठा बता कर उन पर भाजपा के साथ गठबंधन खत्म करने का आरोप लगा दिया।

राउत ने कहा, "आपने बंद दरवाजे के पीछे लिए गए फैसलों को लेकर प्रधानमंत्री मोदी को जानकारी क्यों नहीं दी? चुनाव परिणाम आने तक साझेदारी से मना करने के लिए आप अब तक चुप क्यों रहे?" उन्होंने कहा कि भाजपा हमेशा से बंद दरवाजों के पीछे लिए गए फैसलों को जनता के सामने लाने से मना करती है, लेकिन अगर उन्होंने अपने शब्द और वादे पूरे किए होते, तो मामला कभी भी खुलकर सामने नहीं आता। सोमवार को एंजियोप्लास्टी कराने के बाद राउत ने पहली बार मीडिया से बातचीत की।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top