Home > Lead Story > सत्ता में वापसी होने पर कोई देशद्रोह करने की हिम्मत न करे ऐसा कानून बनाएंगे : राजनाथ

सत्ता में वापसी होने पर कोई देशद्रोह करने की हिम्मत न करे ऐसा कानून बनाएंगे : राजनाथ

सत्ता में वापसी होने पर कोई देशद्रोह करने की हिम्मत न करे ऐसा कानून बनाएंगे : राजनाथ

हजारीबाग। केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि राजग सरकार पुनः सत्ता में आने के साथ ही ऐसे कड़े कानून बनायेगी, जिसके कारण कोई देशद्रोह करने की हिम्मत न करे। केन्द्र से कांग्रेस जैसे जैसे साफ होगी, वैसे ही देश की गरीबी भी साफ होगी। उन्होंने कहा कि अब तक कांग्रेस गरीबी हटाओं के नारे व योजना के माध्यम से इसके नेता अपनी गरीबी हटाने का काम करते रहे हैं। सिंह मंगलवार को हजारीबाग से भाजपा उम्मीदवार जयंत सिन्हा के पक्ष में चैपारण के सेलहारा गांव में चुनावी सभा में लोगों को संबोधित कर रहे थे।

सिंह ने कहा कि उनका चैकीदार चोर नहीं प्योर है, इनका पीएम बनना श्योर है, देश में मोदी वन्स मोर है। गृह मंत्री ने देश में एक बार फिर मोदी सरकार बनाने के लिए लोगों से जयंत सिन्हा को जीताने की अपील की। उन्होंने कहा कि भाजपा उम्मीदवार जयंत सिन्हा के क्षेत्र में 25 हजार करोड़ का निवेश किया गया है। देश के किसी भी संसदीय क्षेत्र में इतना बड़ा निवेश शायद ही हुआ है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय में रहते हुए भी सिन्हा हजारीबाग के विकास की चिंता करते रहते हैं। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से इतनी बड़ी राशि के निवेश का लाभ यहां की जनता को मिलेगा। श्री सिंह ने लोगों से भाजपा के पक्ष में वोट करने की अपील की।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जयंत सिन्हा ने कहा कि पतरातु पावर प्रोजेक्ट में एनटीपीस में हजारों करोड़ का निवेश किया है। इतना ही नहीं रेलवे, एनटीपीसी, कोलियरी, गोरियाकर्मा कृषि अनुसंधान केन्द्र से लेकर मेडिकल कॉलेज निर्माण का कार्य किया गया है। विकास कार्य को आगे भी तेज गति से जारी रखने के लिए उन्होंने भाजपा को वोट देते हुए केन्द्र में मोदी को प्रधानमंत्री बनाने की बात कही। विधायक मनीष जायसवाल ने जयंत सिन्हा के कुशल नेतृत्व में क्षेत्र में तेजी से विकास होने का जिक्र किया और लोगों से भाजपा को वोट देने की अपील की। बरकट्ठा विधायक जानकी यादव ने भी केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों की जानकारी दी।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8810 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top