Home > Lead Story > संदेसरा ब्रदर्स घोटाला पीएनबी से भी बड़ा : प्रवर्तन निदेशालय

संदेसरा ब्रदर्स घोटाला पीएनबी से भी बड़ा : प्रवर्तन निदेशालय

संदेसरा ब्रदर्स घोटाला पीएनबी से भी बड़ा : प्रवर्तन निदेशालय

नई दिल्ली। संदेसरा ब्रदर्स की ओर से किया गया घोटाला पीएनबी घोटाले से भी बड़ा घोटाला बताया जा रहा है। यह जानकारी प्रवर्तन निदेशालय ने दी है। स्टर्लिंग बायोटेक लिमिटेड/संदेसरा ग्रुप और इसके प्रमोटर नितिन संदेसरा, चेतन संदेसरा और दीप्ती संदेसरा ने भारतीय बैंकों को 14 हजार 500 करोड़ से ज्यादा की चपत लगाई है। आपको बताते जाए कि नीरव मोदी ने 11 हजार 400 करोड़ रुपए का बैंक फ्रॉड किया है।

मीडिया रिपोर्टस के अनुसार, इस मामले में अक्टूबर 2017 में सीबीआई की एफआईआर के बाद ईडी ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। उल्लेखनीय है कि स्टर्लिंग बॉयोटेक के मालिक संदेसरा बंधुओं चेतन जयंतीलाल संदेसरा और नितिन जयंतीलाल संदेसरा पर फर्जी कंपनियां बनाकर बैंकों से लोन लेने का आरोप लगाया गया है। संदेसरा बंधुओं के खिलाफ सीबीआई ने 5700 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया था।

इस मामले में स्टर्लिंग बायोटेक के साथ ही कंपनी के निदेशकों चेतन जयंतीलाल संदेसरा, दीप्ति चेतन संदेसरा, राजभूषण ओमप्रकाश दीक्षित, नितिन जयंतीलाल संदेसरा और विलास जोशी, सीए हेमंत गर्ग आदि को आरोपी बनाया गया था। फरार चल रहे संदेसरा ब्रदर्स के खिलाफ ईडी के अनुसार लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया था। सीबीआई की एफआईआर के अनुसार संदेसरा बंधुुओं की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक ने आंध्रा बैंक की अगुवाई वाले बैंकों के संघ से 5000 करोड़ रुपए ऋण लिए थे, उन्हें चुकाया नहीं गया इसके बाद उन खातों को एनपीए कर दिया गया।

संदेसरा ब्रदर्स के कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल के करीबी बताए जाते हैं। पटेल के बेटे फैजल पटेल और दामाद इरफान सिद्दीकी स्टर्लिंग बायोटेक में शामिल हाेने के आरोप लगे हैं। कंपनी का पता भी अहमद पटेल के आवास का बताया गया है। कंपनी के सारे लेन-देन इसी पते से होना बताया गया है। ईडी ने अहमद पटेल के बेटे और दामाद को भी आरोपी बनाया था। संदेसरा बंधुओं का कहां है अभी पता लगाना बड़ी चुनौती बनी हुई है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top