Home > Lead Story > पूरे चुनाव में नहीं लूंगा "सांसद" का नाम : रविशंकर प्रसाद

पूरे चुनाव में नहीं लूंगा "सांसद" का नाम : रविशंकर प्रसाद

पूरे चुनाव में नहीं लूंगा "सांसद" का नाम : रविशंकर प्रसाद

पटना। "स्टार वार" देखने वाला बिहार का पटना साहिब लोकसभा क्षेत्र इस बार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा की सीट बन गई है |

भाजपा के केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को यहाँ से मैदान में उतारा है जबकि दो बार से भाजपा के लिए यह सीट जीतने वाले शत्रुघ्न सिन्हा कांग्रेस के टिकट पर यहाँ से मैदान में हैं | शत्रुघ्न सिन्हा भाजपा के पुराने कद्दावर नेता रह चुके हैं और रविशंकर प्रसाद के साथ उनका दोस्ताना रिश्ता रहा है | इसी दोस्ती के नाते दोनों एक दूसरे के बारे में कुछ भी कहने से बच रहे हैं, हालांकि दोनों दोस्तों के बीच टक्कर भी कांटे की रहने की सम्भावना है और यहाँ का मुकाबला भी दिलचस्प होता जा रहा है |

अपने नाम की घोषणा के बाद से ही रविशंकर प्रसाद चुनाव प्रचार में जुट गए हैं जबकि कांग्रेस के स्टार प्रचारक की सूची में शामिल शत्रुघ्न सिन्हा ने पटना साहिब में अभी तक चुनाव प्रचार शुरू नहीं किया है |

अपने चुनाव प्रचार के दौरान रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि वह अपने पूरे चुनाव में क्षेत्रीय सांसद शत्रुघ्न सिन्हा का नाम नहीं लेंगे। उन्होंने कहा कि शत्रुघ्न सिन्हा का नाम तो वह नहीं लिंगे किन्तु जिस पार्टी में बिहारी बाबू गए हैं उस पार्टी पर वह सवाल अवश्य उठाएंगे।

कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस ऎसी पार्टी है जो सेना के शौर्य पर सवाल उठाती है और सेना की कार्वाइयों पर सबूत मांगती है।

अपने जनसंपर्क अभियान के दौरान पटना के गायघाट में आयोजित एक कार्यक्रम में रविशंकर प्रसाद ने उपस्थित लोगों से कहा कि जब आप के सांसद आपके बीच में आये ं तो उनसे यह सवाल जरूर पूछना कि आपकी पार्टी सेना के पराक्रम के सबूत क्यों मांगती है। उल्लेखनीय है कि पिछले लोकसभा के चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब से चुनाव जीते थे और वर्तमान में वह यहाँ के सांसद हैं |

रविशंकर प्रसाद ने लोकसभा के इस चुनाव को देश के भविष्य का चुनाव बताते हुए मतदाताओं से कहा कि रिकॉर्ड वोटों से जीत दिलाने के लिए सबको एक-एक वोट का ध्यान रखना होगा |

रविशंकर प्रसाद ने बिहार सरकार के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव को अपना मित्र बताते हुए दावा किया कि उन्होंने नंदकिशोर यादव के साथ मिलकर पटना के लिए विकास के ढेरों कार्य किए हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व की सरकारों ने पटना के विकास के लिए उतना पैसा नहीं दिया जितना वर्तमान में मोदी सरकार ने दिया है। बिहार के विकास के लिए बनाई गई केंद्र की योजनाओं की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि लोगों को यातायात की बेहतर सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मेट्रो सेवा शुरू होगी | उन्होंने कहा कि पूरे बिहार में सबसे पहले मेट्रो पटना में चलेगी जिसका रास्ता साफ हो गया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हृदय बिहार के लिए बहुत बड़ा है और वह यह जानते हैं कि जब तक बिहार आगे नहीं बढ़ेगा तब तक देश भी आगे नहीं बढ़ेगा। इसे ध्यान में रखते हुए प्रधानमंत्री ने एकमुश्त 1300 करोड़ रुपये बिहार के लिए मंजूर किया, जिससे गांधी सेतु का निर्माण हुआ।

रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग नेहरू के खिलाफ थे, उन्हें कांग्रेस ने वर्षों तक भारत रत्न नहीं दिया।

Tags:    

Swadesh Digital ( 10109 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top