Home > Lead Story > गरीबों के घर 'चौकीदार' नहीं होता : राहुल

गरीबों के घर 'चौकीदार' नहीं होता : राहुल

गरीबों के घर

आगरा। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के अपने आप को 'चौकीदार' कहने पर तंज कसते हुए कहा कि 'चौकीदार' बड़े लोगों के घर होते हैं, गरीबों के घर 'चौकीदार' नहीं होते।

राहुल ने सोमवार को आगरा में फतेहपुर सीकरी लोकसभा क्षेत्र के उम्मीदवार व कांंग्रेस के प्रदेश के अध्यक्ष राजब्बर के समर्थन में बाह के जरार में जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसानों का पैसा चुराकर अम्बानी, नीरव मोदी को दिया गया है। दो लाख युवाओं को रोजगार देने का वादा किया था, लेकिन किसी को रोजगार नहीं दिया। नरेन्द्र मोदी अच्छे दिन का नारा देकर जनता के बीच में आये थे, कहा था 15 लाख खातों में आयेंगे लेकिन किसी को कुछ नहीं मिला। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार आयेगी तो महिलाओं के खाते में 72 हजार रुपये सालाना भेजा जाएगा। पांच करोड़ परिवारों को यह लाभ मिलेगा।

राहुल के पूरे भाषण में नरेन्द्र मोदी व उद्योगपति निशाने पर रहे।

उन्होंने कहा कि चौकीदार चोर है, किसानों के पैसों को उद्योगपतियों को दे रहे हैं। कर्ज होने पर किसानों को जेल भेज दिया जाता है। नीरव मोदी, विजय माल्या खुलेआम घूम रहे हैं, यदि बड़े लोग जेल नहीं जायेंगे तो किसान भी जेल नहीं जायेगा। मध्य प्रदेश, छतीसगढ, राजस्थान का जिक्र करते हुए कहा कि वहां हमारी सरकार है। यहां किसानों का कर्जा माफ करने का वादा किया था। उसको दूसरे दिन पूरा कर दिया। हमारी न्याय योजना शुरू हो रही हैै। सरकार बनते ही 22 लाख युवाओं को रोजगार एक साल के अन्दर दिया जायेगा। किसानों का फसल बीमा का लाभ मिलेगा। किसानों को उनकी फसल का उचित दाम मिलेगा। आलू क्षेत्र में फूड यूनिट लगायी जायेगी।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top