Home > Lead Story > पत्रकार के साथ मारपीट करने वाला थाना प्रभारी निलंबित

पत्रकार के साथ मारपीट करने वाला थाना प्रभारी निलंबित

- गृहमंत्री और जनसम्पर्क मंत्री के निर्देश पर हुई कार्यवाही

पत्रकार के साथ मारपीट करने वाला थाना प्रभारी निलंबित

- वीरपुर में बाजार बंद के साथ नेताओं ने दे दिया धरना

श्योपुर ब्यूरो। श्योपुर जिले के वीरपुर थाना प्रभारी ने अपनी करतूतों की खबरे प्रकाशित होने के बाद स्वदेश के संवाददाता की न सिर्फ बेरहमी से पिटाई कर दी बल्कि उसे हवालात में बंद भी कर दिया। थाना प्रभारी रोहित गुप्ता द्वारा मीडिया की आवाज को इस तरह दबाए जाने के मामले में तमाम पत्रकार और भाजपा एंव कांग्रेस के नेता एकजुट हो गए। साथ ही व्यापारियों ने भी बाजार बंद कर दिया। पुलिस की गुण्डागर्दी का यह मामला भोपाल तक जा गूंजा। क्षेत्रीय संासद अनूप मिश्रा सक्रिय हुए, वहीं भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेन्द्र पाराशर ने समूचे मामले की जानकारी से जनंसपर्क मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा और गृहमंत्री भूपेन्द्र सिंह को अवगत कराया जिसपर उन्होंने तत्काल प्रभाव से कार्यवाही के निर्देश चंबल आईजी संतोष कुमार को दिए। आईजी के निर्देश पर पुलिस अधीक्षक डॉ. शिवदयाल सिंह ने वीरपुर थाना प्रभारी रोहित गुप्ता को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर लाइन अटैच कर दिया।

जानकारी के अनुसार स्वदेश के पत्रकार पवन चतुर्वेदी शनिवार को दोपहर 12:30 बजे वीरपुर थाने के सामने राजस्व निरीक्षक से मिलने के लिए गए थे, तभी वीरपुर थाना प्रभारी रोहित गुप्ता ने दो आरक्षकों के साथ मिलकर पवन चतुर्वेदी को पकड़ लिया और अभद्रता करने का झूठा आरोप लगाते हुए बीच सड़क पर मारपीट करते हुए थाने ले आए। पत्रकार का कसूर मात्र इतना था कि उसने थाना प्रभारी के भ्रष्टाचार की खबरे प्रकाशित की थी।

पुलिस ने रची झूठी कहानी

इस मामले में सफाई पेश करते हुए वीरपुर थाना पुलिस का कहना है कि वाहन चैकिंग के दौरान पत्रकार द्वारा एक आरक्षक के साथ मारपीट की गई थी, लेकिन यह पूरी कहानी पुलिस द्वारा झूठी रची गई है। मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि पत्रकार पवन चतुर्वेदी पुलिस थाने के सामने बने क्वाटर में निवास करने वाले राजस्व निरीक्षक से मिलने के लिए आए थे। तभी थाना प्रभारी रोहित गुप्ता ने दो आरक्षकों के साथ मिलकर पवन चतुर्वेदी के साभ अभद्रता करते हुए उनके साथ बीच सड़क पर मारपीट की और उन्हें थाने ले आई, थाने लाकर पत्रकार के साथ जानवरों जैसा व्यवहार करते हुए बेरहमी से मारपीट की गई।

व्यापारियों ने किया बाजार बंद, नेताओं ने दिया धरना

धरना देते हुए व्यापारी, नेता, पत्रकार एवं क्षेत्र निवासी धरना देते हुए व्यापारी, नेता, पत्रकार एवं क्षेत्र निवासी

वीरपुर में निवास करने वाले पवन चतुर्वेदी अधिवक्ता के रूप मेें प्रेक्टिस करने के साथ-साथ पत्रकार हैं और उनकी छवि लोगों के बीच एक सम्मानजनक व्यक्ति के रूप में है। घटना से आक्रोशित वीरपुर कस्बे के व्यापारियों ने बाजार बंद करते हुए पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर दिया। जब इस बात की खबर कांग्रेस के प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत और पूर्व विधायक बाबूलाल मेवरा को लगी तो वे सैंकड़ों लोगों के साथ थाने पर पहुंचे और थाना प्रभारी के खिलाफ धरना प्रदर्शन करते हुए निलंबन की मांग की। घटना के बाद विजयपुर एसडीओपी शिवसिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे।

यह भी खास-खास...

-वीरपुर थाना प्रभारी रोहित गुप्ता की छवि वीरपुर ही नहीं, बल्कि सेसईपुरा थाने में पदस्थी के दौरान भी ठीक नहीं थी, यहां भी उन्होंने लोगों के साथ वेजवह मारपीट की थी, इसेक बाद वीरपर में लोगों से वसूली करना, पैसों के लिए बेवजह लोगों को थाने पर बिठाने जैसी घटनाओं को अंजाम दिया था।

- वीरपुर थाना प्रभारी के खिलाफ कई बार मामले उजागर होने के बाद भी पुलिस अधीक्षक द्वारा हर बार जांच का आश्वासन देकर थाना प्रभारी के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गई थी।

- वीरपुर पुलिस ने पत्रकार के खिलाफ 10 मिनट में ही बिना किसी जांच के कर दी थी हरिजन एक्ट की कार्यवाही।

- वीरपुर थाना पुलिस के रोजनामचे में दर्ज नहीं है पुलिस चैंकिंग, झूठी कहानी के चक्कर में बोला झूठ।

- लोगों की भीड़ देख थाने के पिछले गेट से भाग निकला थाना प्रभारी रोहित गुप्ता।

- भीड़ को काबू करने के लिए विजयपुर एसडीएम, तहसीलदार सहित रघुनाथपर, औछापुरा सहित चार थानों की पलिस मौके पर पहुंची।

इनका कहना है

प्रदेश के सभी नागरिकों के सम्मान व सुरक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्ध है। किसी भी व्यक्ति के साथ दुव्र्यहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पत्रकार मित्र अथक परिश्रम कर समाज जागरण का कार्य करते हैं। इसलिए अतिरिक्त आदर भाव रहता है। इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर त्वरित कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं।

भूपेन्द्र सिंह

गृहमंत्री, मध्यप्रदेश शासन

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top