Home > Lead Story > चौकीदार की ईमानदारी, बिचौलियों और दलालों के हमदर्दों को परेशान कर रही : PM मोदी

चौकीदार की ईमानदारी, बिचौलियों और दलालों के हमदर्दों को परेशान कर रही : PM मोदी

चौकीदार की ईमानदारी, बिचौलियों और दलालों के हमदर्दों को परेशान कर रही : PM मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री के गुजरात दौरे का आज (मंगलवार) दूसरा दिन है। पीएम नरेंद्र मोदी ने मंगलवार सुबह गांधीनगर जिले में स्थित श्री अन्नापूर्ण धाम में पूजा अर्चना की। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को संकेत दिया कि पाकिस्तान में पिछले सप्ताह किये गये हवाई हमले पड़ोसी देश से पनप रहे आतंकवाद के खिलाफ भारत की इस तरह की आखिरी कार्रवाई नहीं है।

- वो मोदी पर स्ट्राइक करने में लगे हैं और मोदी आतंक पर स्ट्राइक करने में जुटा है: PM मोदी

- आपके इस चौकीदार की ईमानदारी, बिचौलियों और दलालों के हमदर्दों को परेशान कर रही है। इसलिए वो ज़ोर-ज़ोर से चिल्ला रहे हैं- मोदी हटाओ! लेकिन आपके आशीर्वाद से चौकीदार अड़ा है अपने इरादों पर खड़ा है: पीएम मोदी

- मैं देश के तमाम परिवारों से भी आज आग्रह करुंगा कि आप भी अपने घर पर काम करने वाले साथियों को पीएम श्रमयोगी मानधन योजना से जोड़ने में मदद करें। जो आपकी सेवा में लगे हैं, उनके प्रति आपका ये योगदान राष्ट्र को और शक्ति देगा: पीएम मोदी

- वे कहते हैं आओ मिलकर मोदी को हटाएं, मैं कहता हूं, आओ मिलकर देश से गरीबी और बेईमानी को हटाएं। वो मोदी को हटाने के लिए महामिलावट करने में जुटे हैं और मैं किसानों, कामगारों के हितों को सुरक्षित करने में लगा हुआ हूं: पीएम मोदी

- पहले जिस दल की सरकार थी। जिसने दशकों तक देश पर शासन किया। वो जब गरीबी को एक मानसिक अवस्था समझे, तो आप समझ सकते हैं कि पहले आपकी चिंता क्यों नहीं की गई। भारत में गरीबी मानसिक अवस्था नहीं है, बल्कि ऐसी सोच वालों की गलत मानसिकता और गलत नीतियों का परिणाम है: पीएम मोदी

- देशभर के सभी कामगार साथी जो घरों में सेवक के रूप में काम कर रहे हैं,कबाड़ से आजीविका कमाते हैं, कपड़े धोने के काम करते हैं, खेत मजदूरी कर रहे हैं, सड़कों-घरों के निर्माण में जुटे हैं, रेहड़ी-ठेले चलाते हैं, बुनकर हैं, ऐसे कामों से जुड़े सभी कामगार साथियों को बहुत बधाई: PM मोदी

- यही पीड़ा मन-मस्तिष्क में थी, जिसने प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना के लिए हमारी सरकार को प्रेरित किया। आज़ादी के बाद के इतिहास की ये पहली योजना है जिसने समाज के उस वर्ग को छुआ है, जिसके बारे में कभी सोचा ही नहीं गया, जिनको अपने ही भाग्य पर छोड़ दिया गया था: PM मोदी

- मैंने स्वयं अनुभव किया है कि आप सभी को किन परिस्थितियों से गुज़रना पड़ता है। मुझे ऐहसास है कि देश के करोड़ों गरीबों के मन में ये सवाल रहता था कि जब तक हाथ-पैर चलते हैं, तब तक तो काम भी मिल पाएगा, थोड़ा बहुत पैसा भी मिलेगा, लेकिन जब शरीर कमजोर हो जाएगा तब क्या होगा ?: PM मोदी

- मैंने स्वयं अनुभव किया है कि आप सभी को किन परिस्थितियों से गुज़रना पड़ता है। मुझे ऐहसास है कि देश के करोड़ों गरीबों के मन में ये सवाल रहता था कि जब तक हाथ-पैर चलते हैं, तब तक तो काम भी मिल पाएगा, थोड़ा बहुत पैसा भी मिलेगा, लेकिन जब शरीर कमजोर हो जाएगा तब क्या होगा ?: PM

- देशभर के सभी कामगार साथी जो घरों में सेवक के रूप में काम कर रहे हैं, कबाड़ से आजीविका कमाते हैं, खेत मजदूरी कर रहे हैं, सड़कों-घरों के निर्माण में जुटे हैं, रेहड़ी-ठेले चलाते हैं, बुनकर हैं, ऐसे कामों से जुड़े सभी कामगार साथियों को बहुत बधाई: पीएम मोदी

- आज प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना यानी PMSYM आप सभी के लिए, देश के लगभग 42 करोड़ श्रमिकों, कामगारों की सेवा में समर्पित है: पीएम मोदी

- आज हम सभी एक ऐतिहासिक अवसर के साक्षी बन रहे हैं। आज के इस कार्यक्रम का होस्ट गुजरात है, लेकिन इस कार्यक्रम में इस समय पूरे देश से करीब दो करोड़ लोग तकनीक के माध्यम से शामिल हुए हैं: पीएम मोदी

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का शुभारंभ कर 11,51,000 लाभार्थियों तक 13,58,31,918 रुपये की धनराशि सीधे पेंशन खातों में ट्रांसफर की।

- सरकार से उसके काम के बारे में हिसाब मांगना अब परंपरा बन गई है : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी

- प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को अपने गुजरात दौरे के दूसरे दिन गांधी नगर पहुंचें। यहां पीएम मोदी ने एक सार्वजनिक कार्यक्रम के मंच पर गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के चरण छू लिये।

-पीएम मोदी ने एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भारत में आतंकवादी हमलों के लिए जिम्मेदार लोग अगर पाताल में भी छिपे होंगे तो वह उन्हें खोज निकालेंगे। पाकिस्तान में आतंकी शिविरों पर 26 फरवरी को भारत के हवाई हमले का परोक्ष जिक्र करते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'अगर एक काम पूरा हो जाता है, तो हमारी सरकार सोती नहीं है, बल्कि दूसरे काम के लिए तैयार रहती है। उनके इस बयान पर मौजूदा श्रोताओं ने समर्थन जताते हुए जमकर नारेबाजी की।'

- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अहमदाबाद में एक सभा को संबोधित करने के बाद देर शाम रायसेन गांव में अपनी नब्बे वर्षीय मां हीरा बा से सोमवार को मुलाकात की। हीरा बा मोदी प्रधानमंत्री के छोटे भाई पंकज मोदी के साथ गांधीनगर के नजदीक स्थित गांव में रहती हैं। प्रधानमंत्री ने अपनी मां और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ करीब 30 मिनट बिताए।

Tags:    

Swadesh Digital ( 7208 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top