Home > Lead Story > प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का किया शिलान्यास, हर किसी के जीवन को ये एक्सप्रेसवे देगा नई दिशा

प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का किया शिलान्यास, हर किसी के जीवन को ये एक्सप्रेसवे देगा नई दिशा

प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का किया शिलान्यास, हर किसी के जीवन को ये एक्सप्रेसवे देगा नई दिशा

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहां ग्राम मन्दुरी में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे शिलान्यास किया। इस मौके पर उन्होंने अपने भाषण की शुरूआत में कहा,'' आज हमरे खातिर बहुत ही गौरवशाली दिन बा। तमसा के पावन तट पर स्थित आजमगढ़ में आवे के सौभाग्य मिलल हवै। ई जिला तमाम ऋषि, मुनियों, चिंतकों, विद्वानों व स्वंत्रता सेनानियों के जन्म स्थली रहल हवै। हम ई धरती के शाष्टांग प्रणाम करत हई, आप सब लोगन के पांव लागत हई।''

प्रधानमंत्री ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे उत्तर प्रदेश की आशाओं और आकाक्षाओं को नई बुलंदियां देने वाला है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे पर 23,000 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च किए जाएंगे। लखनऊ से लेकर गाजीपुर के रास्ते में जितने भी शहर-कस्बे और गांव आएंगे, वहां की तस्वीर बदलने जा रही है।

उन्होंने कहा कि यहां का किसान हो, पशुपालक हो, बुनकर हो, मिट्टी के बर्तनों का काम करने वाला हो, हर किसी के जीवन को ये एक्सप्रेसवे नई दिशा देने वाला है। इस रोड के बन जाने से पूर्वांचल के किसान भाई-बहनों का अनाज, फल, सब्जी, दूध, कम समय में दिल्ली की बड़ी मंडियों तक पहुंच पाएगा। इसके अलावा एक और चीज बढ़ेगी पर्यटन बढ़ेगा। इस क्षेत्र में जो हमारे महत्वपूर्ण पौराणिक स्थान हैं, भगवान राम से जुड़े, हमारे ऋषि मुनियों से जुड़े, उनका अब अधिक प्रचार-प्रसार हो पाएगा। इससे यहां के युवाओं को अपने पारंपरिक कामकाज के साथ-साथ रोज़गार के नए अवसर भी उपलब्ध होंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एक्सप्रेस वे के निर्माण से किसानों को सबसे अधिक फायदा होगा। एक्सप्रेस वे के इर्द-गिर्द नए शिक्षण संस्थान बनेंगे। आज उत्तर प्रदेश में सिर्फ हाईवे ही नहीं बल्कि वॉटरवे और एयरवे पर भी तेजी से काम चल रहा है। गंगा जी में बनारस से हल्दिया तक चलने वाले जहाज इस पूरे क्षेत्र में औद्योगिक विकास को और आगे ले जाएंगे। उत्तर प्रदेश के 12 एयरपोर्ट उड़ान योजना के तहत विकसित किए जा रहे हैं।

योगी आदित्यनाथ सरकार की जमकर तारीफ की

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने भाषण में योगी आदित्यनाथ सरकार की जमकर तारीफ की। उन्होंने मुख्यमंत्री को यशस्वी, परिश्रमी और तेजस्वी कहकर सम्बोधित किया और कहा कि उनके नेतृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार ने अभूतपूर्व काम किया है। उन्होंने जनसभा में कहा कि बड़े-बड़े अपराधियों की स्थिति क्या है ये आपको अच्छी तरह पता है। भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश में विकास का उत्तम वातावरण बनाने प्रयास किया है। अपराध और भ्रष्टाचार पर नियंत्रण लगाकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़े से बड़ा निवेश लाने और छोटे से छोटे उद्यमी के लिए व्यापार को सुलभ बनाने का काम किया है। योगी सरकार जनता की सेवा में डूबी हुई है। योगी आदित्यनाथ सरकार बनने के बाद विकास की गति और बढ़ गई है। मोदी हो या योगी आप ही लोग हमारा परिवार है। आपके सपने यही हमारे सपने हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि किसान हों या नौजवान हों, महिलाएं हों या पीड़ित, वंचित और शोषित। योगी सरकार सभी की सेवा में जुटी हुई है।

एक्सप्रेस-वे के पहले से शिलान्यास की बात जनभावना से खिलवाड़-योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पद संभालते ही पूर्वांचल और पूर्वी भारत के विकास के लिए जो रूपरेखा तैयार की उसी शृंखला में गोरखपुर में एम्स और फर्टिलाइजर कारखाने का शुभारंभ करके उस कार्य को आगे बढ़ाया गया। प्रधानमंत्री ने काशी को अपने संसदीय क्षेत्र के रूप में चुनकर उन्होंने उत्तर प्रदेश का मान बढ़ाया और काशी को एक नई दिशा देने का काम किया। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पूर्वांचल की लाइफ लाइन बनेगा। इस एक्सप्रेस वे के जरिए हम उन जिलों को विकास की मुख्यधारा से जोड़ने का काम कर रहे हैं, जो लम्बे समय से विकास से अछूते थे। यह भाजपा के संकल्प पत्र के अनुरूप है। आज पलायन को रोकने का काम किया जा रहा है। यूपी इन्वेस्टर्स समिट या फिर पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के शिलान्यास कार्यक्रम ये उत्तर प्रदेश की तरक्की की माध्यम है।

मुख्यमंत्री विरोधी दलों पर हमलावर होते हुए कहा कि यही उत्तर प्रदेश है, जिसने गुण्डाराज, भ्रष्टाचार, अराजकता और दंगों की मार झेली। यहां समाजवाद के नाम पर इन्हें बढ़ावा देने वाले लोग जब विकास की बात करते हैं तो आश्चर्य होता है। सपा मुखिया अलिखेश यादव द्वारा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे का शिलान्यास पहले ही होने पर पलटवार करते हुए योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह जनभावना से खिलवाड़ की बात है। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे समाजवादी या कांग्रेस पार्टी का नहीं होता, जनता का होता है। पिछली सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री ने काह कि जब इस एक्सप्रेस वे के लिए 20 प्रतिशत जमीन का भी अधिग्रहण नहीं हुआ था, तब इसके लिए बिड डाल दी गई। यहां तक की पर्यावरण, वन विभाग की एनओसी भी नहीं ली गई और 14299 करोड़ रुपये की बिड डाली गई। इसके दो वर्ष बात आज जब हमारी सरकार इसे बनाने जा रही है तो 11836 करोड़ रुपये में इस पूरे एक्सप्रेस वे को बनाया जायेगा। इस तरह समझा जा सकता है कि 1500 करोड़ से अधिक बचे हुए रुपये कहां जाते। यह बचत जनता के पैसे की हुई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये वही लोग हैं, जिन्होंने प्रदेश को नोचा और लूटा है। जातिवाद के नाम पर प्रदेश को कई वर्षों पीछे धकेलने का काम किया और आज घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत दुनिया की तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था बन रहा है। शासन कैसे चलने चाहिए ये मानक बना है। चार साल में किसी भी केन्द्रीय मंत्री पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूर्वाचल एक्सप्रेस वे को हम लखनऊ से बाराबंकी और वहां से उस अमेठी को भी जोड़ने जा रहे हैं, जिसे चार दशकों तक विकास से वंचित रखा गया। इसके साथ ही इसे हम अयोध्या, गोरखपुर और प्रयागराज के साथ भी जोड़ने का काम करेंगे।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top