Home > Lead Story > वोट डालने से पहले प्रत्याशी का इतिहास खंगालने की जरूरत : राम माधव

वोट डालने से पहले प्रत्याशी का इतिहास खंगालने की जरूरत : राम माधव

वोट डालने से पहले प्रत्याशी का इतिहास खंगालने की जरूरत : राम माधव

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय महामंत्री राम माधव ने गुरुवार को लोकसभा चुनावों में पहली बार वोट करने वाले युवाओं की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा कि वह अपने मताधिकार का इस्तेमाल करने से पहले प्रत्याशी का इतिहास खंगालें। उन्होंने कहा कि प्रत्याशी के विषय में शोध करने के बाद ही निर्णय लेना चाहिए।

भाजपा नेता राम माधव ने दिल्ली विश्वविद्यालय(डीयू) से संबद्ध दौलत राम कॉलेज में आयोजित युवा संगोष्ठी 'राष्ट्र निर्माण में युवाओं की भूमिका' को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए कहा कि युवाओं को केवल नागरिक और मतदाता नहीं होना चाहिए, बल्कि उन्हें देश की प्रगति में जवाबदेह हितधारकों के रूप में उभरना चाहिए। उन्होंने कहा कि शास्त्रों में जिस प्रकार से ब्रह्मास्त्र को सबसे बड़ा अस्त्र माना गया है। ठीक उसी प्रकार लोकतंत्र में मतदान का अधिकार भी किसी ब्रह्मास्त्र से कम नहीं है।

राम माधव ने कांग्रेस की न्यूनतम आय योजना(न्याय) पर कटाक्ष करते हुए कहा कि चुनाव में जिसे अपनी हार निश्चित दिखाई देती है वह तो चांद भी लाकर देने का वादा करने से गुरेज नहीं करते हैं। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि क्या चुनाव में हारने वाले 72 हजार रुपये सालाना दे पाएंगाे।

कार्यक्रम में दिल्ली भाजपा के संगठन मंत्री सिद्धार्थन, दौलतराम कॉलेज की प्रिंसिपल सविता रॉय, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग(यूजीसी) के पूर्व सदस्य इंद्र मोहन कपाई भी मौजूद रहे

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top