Home > Lead Story > नासा ने चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की हार्ड लैंडिंग की तस्वीर की जारी

नासा ने चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की हार्ड लैंडिंग की तस्वीर की जारी

नासा ने चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की हार्ड लैंडिंग की तस्वीर की जारी

नई दिल्ली। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नेशनल एरोनॉटिक्स ऐंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने उस जगह की तस्वीर जारी की है कि जहां पर चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर की हार्ड लैंडिंग हुई थी। यह लैंडिंग चंद्रमा की सतह पर हुई थी मगर उस बीच उसका संपर्क टूट गया था।

नासा ने कहा है कि उसकी टीम चंद्रयान-2 से संपर्क स्थापित करने में लगी हुई है। मगर इसमें सफलता नहीं मिल पाई है। अक्टूबर में जब प्रकाश तेज होगा तो एक बार फिर ऑरबिटर लोकेशन और तस्वीर भेजेगा।

नासा ने जो तस्वीर जारी की है उसे उसके लूनर रिकॉनसेंस ऑर्बिटर (एलआरओ) ने कैप्चर किया है। तस्वीर में धूल नजर आ रही है।

नासा ने कहा है कि चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम की सात सितम्बर को चंद्रमा की किसी पर्वतीय भूमि पर हार्ड लैंडिंग हुई थी। इसके बाद उसका पता नहीं चल सका है।

नासा के वैज्ञानिकों ने बताया है कि विक्रम लैंडर चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव से करीब 600 किलोमीटर दूर गिरा था। 17 सितम्बर को एलआरओ ने उस इलाके के ऊपर उड़ान भरी लेकिन शाम का अंधेरा होने से उस जगह की साफ तस्वीर नहीं आ पाई है। इसलिए हम विक्रम लैंडर को खोज नहीं सके।

दरअसल चंद्रयान 2 के विक्रम से संपर्क स्थापित करने की समय सीमा शनिवार को खत्म हो जाएगी क्योंकि जिस जगह पर विक्रम लैंडर उतरा है वहां पर अब 14 दिन के लिए रात शुरू हो जाएगी। उल्लेखनीय है कि इसरो ने 7 सितम्बर रात करीब 1.50 बजे विक्रम लैंडर को चांद के दक्षिणी ध्रुव पर लैंड कराने की कोशिश की थी, लेकिन यह लैंडिंग उम्मीद के मुताबिक नहीं हो सकी और विक्रम से संपर्क टूट गया।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top