Home > Lead Story > प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी-राहुल गाँधी की कुंडली क्या कहती है ? जानें

प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी-राहुल गाँधी की कुंडली क्या कहती है ? जानें

प्रधानमंत्री पद के लिए नरेंद्र मोदी-राहुल गाँधी की कुंडली क्या कहती है ? जानें

क्या 2019 में भी फिर से नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री पद की शपथ लेगें? और राहुल गांधी की कुंडली क्या कहती है क्या इस बार वो कोई चमत्कार दिखा सकतें हैं?

2014 में चली मोदी लहर क्या 2019 में भी बनी रहेगी?

मोदी जी की अनुमानित कुंडली का हम ज्योतिष के अनुसार विश्लेषण कर रहें हैं हमने 2014 में भी लोकसभा चुनाव की भविष्यवाणी की थी जिसमे ईश्वर ने हमारी लाज राखी थी अब भी हमें लगता है ईश्वर हमारी लाज रखेगेंI

अनुमानित जन्मतिथि- 17 सितंबर 1950

जन्म समय- 11:00 बजे

जन्मस्थान- मेहसाणा (गुजरात)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली में बनने वाले राज योग

रूचक पंच महापुरुष योग, अमला योग, गज केसरी योग, वोशी योग, बुध आदित्य योग, चंद्र-मंगल योग, मूसल योग, दण्ड योग, पर्वत योग, कहाल योग, पाराशरी राज योग

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली में बनने वाले ये सभी राजयोग कुंडली में ग्रहों की विशेष स्थितियों से निर्मित होते हैं और व्यक्ति को जीवन में उन्नति प्रदान करते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली में राजयोग के कारण इस विजय होने के 90% योग हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए अच्छा रहने वाला के लोकसभा चुनाव भी अप्रैल से मई की अवधि में संपन्न हो रहें है, इसलिए इस समय में चुनावों में उन्हें सफलता मिलने की संभावना का 90% है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली का ज्योतिषीय विश्लेषण

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी वृश्चिक लग्न और वृश्चिक राशि में जन्मे हैं और उनका जन्म अनुराधा नक्षत्र में हुआ है। वर्तमान समय में 24 जनवरी 2020 तक शनि की उतरती हुई साढ़ेसाती का प्रभाव भी तो होगा किन्तु बुध और केतु दोनों ही चंद्र की दशा से एकादश भाव में स्थित होकर सफलता दिला रहे हैं।

केतु की अंतर्दशा व्यतीत होने के उपरांत शुक्र की अंतर्दशा प्रारंभ होगी जो सप्तम भाव का स्वामी होकर दशम भाव में स्थित है और महादशा स्वामी चंद्रमा से दशम भाव में स्थित है। इन स्थितियों से यह पता चलता है कि 2019 में मोदी जी उन्हें जीत की ओर अग्रसर होंगे और उनकी जीत में धार्मिक संस्थाएं, महिलायें तथा विशेष रूप से मुस्लिम समाज अपना योगदान महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

और राहुल गांधी की कुंडली क्या कहती है?

अनुमानित जन्मतिथि – 19 जून 1970

जन्म समय – 02:28 दोपहर

जन्म स्थान – दिल्ली

राहुल गांधी को अभी मंगल की महादशा में सूर्य का अंतर चल रहा है।

राहुल गांधी की कुण्डली ये बताती है की स्वमं उनके द्वारा किया हुआ कार्य इन्हें बहुत अधिक सफलता नहीं देतें हैं लेकिन पितृपक्ष दवारा इन्हें विरासत में अपार संपत्ति मिलने के योग हैं।

राहुल गांधी को वर्तमान में शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण चल रहा है। जो कि इनके लिये अशुभ है। इससे इनके बने हुए कुछ कार्य बिगड़ने के योग भी बन रहे हैं। जिस कारण राहुल गांधी के विजय होने के 25% योग बनते हैं जिससे वर्तमान और 2024 यानि अगले लोकसभा चुनाव में भी राहुल गांधी शायद ही अपना वर्चस्व स्थापित कर पायें।

दोनों की कुण्डली के अनुसार निष्कर्ष यह निकलता है की राहुल गांधी को 543 सीटों में मेसे लगभग 25% सीट यानि 135 मिल सकतीं हैं और नरेंद्र मोदी को 543 सीट मेसे 70% यानि 380 सीट के लगभग आ सकतीं हैंI

अत: नरेन्द्र मोदी पुन: प्रधानमंत्री पद की शपथ ले सकतें हैं।

ज्योतिषाचार्य एवं हस्तरेखा विशेषज्ञ सतीश सोनी...

Tags:    

Swadesh Digital ( 8767 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top