Home > Lead Story > महाराष्ट्र : शिवसेना-NCP-कांग्रेस ने 162 विधायकों के साथ दिखाया दम, BJP के साथ न जाने की ली शपथ

महाराष्ट्र : शिवसेना-NCP-कांग्रेस ने 162 विधायकों के साथ दिखाया दम, BJP के साथ न जाने की ली शपथ

महाराष्ट्र : शिवसेना-NCP-कांग्रेस ने 162 विधायकों के साथ दिखाया दम, BJP के साथ न जाने की ली शपथImage Credit : Ani Tweet

मुंबई। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव के नतीजे आए एक महीना हो चुका है। इसके बावजूद अभी तक तय नहीं हुआ है कि कौन सरकार बनाएगा। सरकार बनाने के लिए चार प्रमुख दल भाजपा, शिवसेना, रांकापा (एनसीपी) और कांग्रेस दावेदार हैं।

UPDATES :-

- शिवसेना, NCP और कांग्रेस के नेताओं की मौजूदगी में 162 विधायकों ने एकजुटता की शपथ ली। विधायकों को तीनों नेताओं का नाम लेकर बदनीयती से कोई काम नहीं करने, बीजेपी का समर्थन नहीं करने की शपथ दिलाई गई। इस मौके पर बाबा साहेब आंबेडकर और छत्रपति शिवाजी महाराज के नारे भी लगे।

- एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ग्रैंड हयात होटल में विधायकों को संबोधित करते हुए कहा कि अजित पवार ने सबको गुमराह किया है, अब वो कोई फैसला नहीं ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि अजित पवार के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

- उद्धव ठाकरे ने ग्रैड हयात होटल में भी विधायकों को संबोधित किया। उद्धव ने कहा कि हमारी संख्या इतनी है कि हम एक फोटो में नहीं आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सत्ता में जय नहीं, सत्यमेव जयते होना चाहिए। उन्होंने कहा कि हम 5 साल के लिए नहीं 30 साल के लिए साथ आए हैं। उद्धव ने कहा कि अब हम बताएंगे कि शिवसेना क्या चीज है।

- महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता अशोक चव्हाण ने हयात होटल में मौजूद विधायकों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना के 162 नहीं बल्कि उससे ज्यादा विधायक हैं। चव्हाण ने महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ गठबंधन की मंजूरी के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को धन्यवाद दिया।

- शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के 162 विधायक ग्रैंड हयात होटल पहुंच चुके हैं। शिवसेना के एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और सुप्रिया सुले भी ग्रैंड हयात होटल पहुंच चुके हैं। कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और चरण सिंह सापरा भी होटल ग्रैंड हयात में मौजूद है। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे भी होटल हयात में हैं।

- महाराष्ट्र में मचे सियासी उथल-पुथल के बीच शिवसेना, NCP और कांग्रेस अपने 162 विधायकों की परेड ग्रैंड हयात होटल में करवा रही है। शिवसेना के विधायकों को लेकर एक बस ग्रैंड होटल हयात पहुंच चुकी है। एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार और सुप्रिया सुले भी ग्रैंड हयात होटल पहुंच चुके हैं।

- महाराष्ट्र में बारिश से प्रभावित किसानों के लिए सीएम देवेंद्र फडणवीस ने 5380 करोड़ रुपये मंजूर किए।

- ग्रैंड हयात होटल पहुंचे एनसीपी प्रमुख शरद पवार, सुप्रिया सुले भी मौजूद।

- शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने 10 जनपथ स्थित कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर मुलाकात की।

- शिवसेना नेता संजय राउत ने ऐलान किया है कि आज शाम 7 बजे शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस अपने 162 विधायकों को मीडिया के सामाने पेश किया जाएगा। संजय राउत ने ट्वीट कर बताया कि हयात होटल में तीनों दलों के 162 विधायक शाम 7 बजे मीडिया के सामने आएंगे।

- मीडिया रिपोर्टों के अनुसार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेता अजीत पवार के खिलाफ हजारों करोड़ रुपए के सिंचाई घोटाले के मामले सोमवार को हटा लिए गए। हालांकि हल्ला मचने के बाद महाराष्ट्र एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) के डीजी परमबीर सिंह ने बताया कि जिन केसों को आज बंद किया गया है उनका अजित पवार से कोई संबंध नहीं है।

- तमाम राजनीतिक उठापटक के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने संभाला कार्यभार। फडणवीस ने इस कार्यकाल के पहले साइन सीएम रिलीफ फंड के चेक पर किए। यह चेक उन्होंने कुसुम वेंगुरलेकर को सौंपा।

- कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण बोले, असलियत जानने के लिए फ्लोर टेस्ट के अलावा कोई और रास्ता नहीं है। महाराष्ट्र में एक नाजायज मुख्यमंत्री बैठे हुए हैं। मेरे पास कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के 154 विधायकों के साइन शपथ पत्र है। इसमें लिखा है कि हम शिवसेना के उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में साझा सरकार बनाना चाहते हैं

- सभी पक्षों की दलीलें सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने फैसला किया कि वह कल सुबह 10.30 पर देगा फैसला। इसका मतलब आज नहीं होगा बहुमत परीक्षण। इस तरह भाजपा-अजीत पवार को कम से कम अतिरिक्त एक दिन की राहत मिल गई है।

- सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी का बचाव करते हुए कहा कि उन्होंने संविधान के अनुरूप काम किया है। रोहतगी ने कहा कि राज्यपाल ने 170 विधायकों के समर्थन वाली पार्टी की बात सुनी। अन्य ने कभी यह दावा नहीं किया कि विधायकों के हस्ताक्षर फर्जी हैं।

- एनसीपी और कांग्रेस की तरफ से अभिषेक मनु सिंघवी-दोनों पक्ष फ्लोर टेस्ट को सही कह रहे हैं तो फिर इसमें देर क्यों?

- शिवसेना के वकील कपिल सिब्बल-देश मे ऐसी क्या राष्ट्रीय विपदा आ गई थी कि सुबह 5 बजे राष्ट्रपति शासन हटा और 8 बजे मुख्यमंत्री की शपथ भी दिलवा दी गई।

- महाधिवक्ता तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट में महाराष्ट्र में सरकार गठन के मुद्दे पर राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी द्वारा लिए गए निर्णय की न्यायिक समीक्षा किए जाने पर प्राथमिक आपत्ति दर्ज कराई।

- सुप्रीम कोर्ट में केंद्र की तरफ से पेश हुए सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने महाराष्ट्र गवर्नर और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस का पत्र सुप्रीम कोर्ट को सौंपा। मेहता ने कहा कि अजित पवार के गवर्नर को दिए पत्र में 54 विधायकों के हस्ताक्षर थे। अजित ने खुद को राकांपा विधायक दल का नेता बताया था। गवर्नर को पत्र की जांच करने की जरूरत नहीं थी। फडणवीस को सरकार गठन के लिए बुलाने का फैसला उन्होंने सामने रखे गए दस्तावेजों के आधार पर लिया।

- सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस, शिवसेना और एनसीपी की तुरंत बहुमत परीक्षण की मांग पर सुनवाई कर रहा है।

- राकांपा सुप्रीमो शरद पवार ने कहा कि अजित का भाजपा के साथ जाने का फैसला निजी था। मैंने शिवसेना को समर्थन देने का वादा किया है और इसे पूरा करूंगा। हमने शिवसेना से ढाई-ढाई साल सीएम पद की मांग की थी, लेकिन कोई सहमति नहीं बन पाई थी।

- शिवसेना विधायक दल नेता एकनाथ शिंदे, एनसीपी विधायक दल नेता जयंत पाटिल और महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष बालासाहेब थोरात के बीच बैठक जारी है।

- अजित पवार को मनाने की कोशिश जारी है। एनसीपी के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल, अजित से मिलने के लिए पहुंचे। इससे पहले एनसीपी नेता दिलीप वालसे पाटिल, सुनील तटकरे और हसन मुश्रीफ ने भी अजित से मिलकर उन्हें राजी करने की कोशिश की थी।

- एनसीपी के नेता नवाब मलिक ने कहा, हमारे 54 में 52 विधायक लौट आए हैं। एक हमारे संपर्क में है।

- देवेंद्र फडणवीस के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उप मुख्यमंत्री बनने को चुनौती देने वाली शिवसेना, रांकापा और कांग्रेस की याचिका पर आज सुबह 10:30 बजे सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होगी। आज सुनवाई का दूसरा दिन है। रविवार को कोर्ट ने केंद्र, महाराष्ट्र सरकार और फडणवीस को नोटिस जारी किया था।

Tags:    

Amit Senger ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top