Top
Latest News
Home > Lead Story > सीएए के समर्थन में निकली रैली पर पथराव, उपद्रवियों ने 18 दुकानों में लगाई आग, पुलिस अलर्ट

सीएए के समर्थन में निकली रैली पर पथराव, उपद्रवियों ने 18 दुकानों में लगाई आग, पुलिस अलर्ट

- राज्य सरकार ने 12 पुलिस उपाधीक्षक की की प्रतिनियुक्ति

सीएए के समर्थन में निकली रैली पर पथराव, उपद्रवियों ने 18 दुकानों में लगाई आग, पुलिस अलर्ट

रांची/वेब डेस्क। सिटीजनशिप एमेंडमेंट एक्ट (सीएए) के समर्थन में गुरुवार को लोहरदगा शहर में निकली रैली पर पथराव के बाद शुक्रवार को सन्नाटा पसरा हुआ है। सुरक्षा व्यवस्था को लेकर चप्पे-चप्पे पर जिला पुलिस बल और सीआरपीएफ के जवान लगे हैं। लोहरदगा में आगजनी, तोड़फोड़ और मारपीट की घटनाओं को देखते हुए राज्य सरकार ने 12 पुलिस उपाधीक्षक की प्रतिनियुक्ति यहां की है। सभी को एसपी प्रियदर्शी आलोक को रिपोर्ट करने को कहा गया है। सभी से कहा गया है कि वह तत्काल लोहरदगा पहुंचकर रिपोर्ट करें।

लोहरदगा के शहरी क्षेत्र के अलग-अलग हिस्सों में पुलिस बल की तैनाती की गई है। शहर के कई चौक चौराहों में इमरजेंसी लाइट लगाई गई है। महिला और पुलिस बल जिले के अलग-अलग हिस्सों में तैनात हैं। डीआईजी एवी होमकर सहित अन्य अधिकारियों ने लोहरदगा में कैंप कर रखा है और पूरी स्थिति पर नजर बनाए हुए हैं।

डीसी आकांक्षा रंजन और एसपी प्रियदर्शी आलोक ने लोगों से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें बल्कि इस तरह की किसी भी जानकारी को प्रशासन से शेयर करें। विधि- व्यवस्था के मद्देनजर सम्पूर्ण जिले में कर्फ्यू लगाया गया है। कर्फ्यू की अवधि में किसी भी ब्यक्ति काे घर से बाहर निकलना वर्जित है।

उल्लेखनीय है कि सीएए के समर्थन में गुरुवार को लोहरदगा शहर में निकली रैली पर पथराव के बाद दो पक्षों में भिड़ंत हो गई थी। उपद्रवियों ने 18 दुकानों को आग लगा दी, 80 बाइक, चार पिकअप वैन और एक ट्रक फूंक दिया। पुलिस के तीन वाहनों में तोड़फोड़ की गई थी। पत्थरबाजी में दोनों ओर के 25 लोग घायल हो गए। घायलों में दीपक सहित तीन को रिम्स रेफर किया गया है।

हिंसा पर उतारू भीड़ को नियंत्रण करने के लिए पुलिस ने फायरिंग की और आंसू गैस छोड़ी। पथराव में एसपी प्रियदर्शी आलोक भी घायल हुए हैं। उनको बचाने में दो जवानों को भी चोट आई है। बिगड़ती स्थिति को देखते हुए एसपी ने खुद 100 से ज्यादा हवाई फायरिंग की और जवानों ने लाठीचार्ज किया। इसके बाद शांति व्यवस्था बहाल करने के लिए देर रात कर्फ्यू लगा दिया।

घायलों में एएसआई आरएस तिवारी, मुद्रिका प्रसाद सिंह, विक्रम दास, विरेंद्र साहू, राजेश कुमार अग्रवाल, उमेश शंकर साहू, अरुण कुमार, राकेश राय दीपक, हाजी सज्जाद खान रितेश प्रताप सिंह सहित अन्य लोग शामिल हैं।

दक्षिण पूर्व रेलवे की ओर से बुलेटिन जारी कर बताया गया है कि ट्रेन संख्या 680 37 रांची टोरी मेमू पैसेंजर (लोहरदगा होकर) रांची से खुलने वाली ट्रेन रद्द कर दी गई है। इसके अलावा लोहरदगा से होकर गुजरने वाली अन्य ट्रेनों के मार्ग में परिवर्तन किया गया है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top