Home > Lead Story > एनडीआरएफ को न केवल एक मंत्री के रूप में बल्कि एक नागरिक के रूप में भी धन्यवाद देना चाहता हूं : गृहमंत्री शाह

एनडीआरएफ को न केवल एक मंत्री के रूप में बल्कि एक नागरिक के रूप में भी धन्यवाद देना चाहता हूं : गृहमंत्री शाह

एनडीआरएफ को न केवल एक मंत्री के रूप में बल्कि एक नागरिक के रूप में भी धन्यवाद देना चाहता हूं : गृहमंत्री शाह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) और इसकी एजेंसियों द्वारा किए गए कार्यो की सराहना की। उन्होंने कहा कि अब रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के सहयोग से आपदाओं से निपटने के लिए घरेलू स्तर पर उपकरण विकसित करने के प्रयास किए जाने चाहिए।

राज्य आपदा प्रतिक्रिया बलों की क्षमता निर्माण पर दो दिवसीय वार्षिक सम्मेलन को संबोधित करते हुए शाह ने कहा कि अपने गठन के बाद से एनडीआरएफ ने तीन हजार बचाव कार्यो में भाग लिया और एक लाख से अधिक लोगों की जान बचाई, जो एक बड़ी उपलब्धि है। इसने न केवल भारत में बल्कि कई अन्य देशों में भी आपदाओं में बहुत अच्छा काम किया है।

शाह ने कहा कि 1999 में एक बड़ी प्राकृतिक आपदा में ओडिशा में एक चक्रवात के चलते 10 हजार से अधिक लोग मारे गए थे, जबकि उसी राज्य में इस वर्ष के चक्रवात फानी में हताहतों की संख्या घटकर 67 हो गई। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की पहली सरकार के कार्यकाल के दौरान तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन समिति का गठन किया और शरद पवारजी को इसका अध्यक्ष बनाकर बहुत अच्छी शुरुआत की।

गृहमंत्री ने कहा कि एनडीआरएफ की तर्ज पर ही अब 24 राज्यों में राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल (एसडीआरएफ) का गठन किया जा चुका है। नागपुर जल्द ही एक बड़ा केंद्र बनने जा रहा है।" गृहमंत्री ने जोर देकर कहा कि आपदा प्रबंधन की चुनौतियों को तभी हल किया जा सकता है, जब सभी पक्ष अच्छी तरह से सुसज्जित हों। इसमें कोई दो राय नहीं कि आपकी सभी जरूरतें पूरी होंगी।

Tags:    

Swadesh Digital ( 10170 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top