Home > Lead Story > चीन से घटिया सामान आयात करके गुणवत्ता से समझौता न करें इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता: गडकरी

चीन से घटिया सामान आयात करके गुणवत्ता से समझौता न करें इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता: गडकरी

चीन से घटिया सामान आयात करके गुणवत्ता से समझौता न करें इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता: गडकरी

नई दिल्ली, 21 दिसम्बर। केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार को प्रगति मैदान में आठवें 'इलेक्ट्रिक व्हीकल एक्सपो' का उद्घाटन करते हुए कहा कि इलेक्ट्रिक वाहन भारत का भविष्य है। उन्होंने निर्माताओं को चेतावनी देते हुए कहा कि वह चीन से घटिया सामान आयात करके गुणवत्ता और सुरक्षा उपायों से किसी तरह का समझौता न करते हुए इसे बढ़ावा दें।

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि भारत स्वच्छ ईंधन को बढ़ावा देने और कच्चे तेल आयात के भारी बिलों में कटौती करने के लिए पांच साल में 11,000 करोड़ रुपये के मेथनॉल अर्थव्यवस्था को करीब 2 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचाने को प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि मेथनॉल की कीमत इज़राइल में 12 रुपये प्रति लीटर, चीन में 16 रुपये प्रति लीटर और भारत में 22 रुपये प्रति लीटर थी, जो पेट्रोल और डीजल से काफी सस्ता था।

गडकरी ने एक्सपो में इलेक्ट्रिक ऑटो 'केवाईटीओ' का भी अनावरण किया। इस मौके पर भारत के ईटीओ मोटर्स प्राइवेट लिमिटेड और हांगकांग स्थित केवाईटीओ ग्रीन टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के बीच संयुक्त उद्यम के करार की घोषणा की गई। केईटीओ भारत में इलेक्ट्रिक ऑटोरिक्शा वैरिएंट्स के लॉन्च के साथ देश में ई-वाहन क्षेत्र में क्रांतिकारी बदलाव लाने के लिए तैयार है।

केवाईटीओ के लॉन्च और कंपनी की भविष्य की योजनाओं के बारे में टिप्पणी करते हुए केईटीओ के निदेशक बलराम नारायणकर ने कहा कि केईटीओ के आगामी दो वर्षों में 10 मिलियन अमेरिकी डालर का निवेश करने की संभावना है और फंड्स का उपयोग सालाना 50 हजार यूनिट्स की क्षमता वाले एक नए प्लांट को स्थापित करने और उत्पाद के अनुसंधान और विकास के लिए किया जाएगा। हमारा फोकस इन वाहनों को सभी के लिए सुलभ और सस्ता बनाना है। इसलिए केईटीओ खुदरा बिक्री के अलावा, लीजिंग विकल्पों पर विचार कर रहा है।

ईयू मानकों के लिए डिज़ाइन किए गए, ई-ऑटोज़ तीन वैरिएंट्स में आते हैं- केवाईटीओ 3, केवाईटीओ 5 और केवाईटीओ कार्गो। ये वाहन भारतीय बाजार में विभिन्न ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करते हैं। जहां केवाईटीओ 3 और केवाईटीओ 5, 3 और 5 सीटर यात्री वाहन हैं; वहीं केवाईटीओ कार्गो का उपयोग माल और अपशिष्ट संग्रह ले जाने के लिए किया जाएगा। यह वाहन दिखने में स्टाइलिश और अपमार्केट हैं तथा सुरक्षित और अधिक आरामदायक ड्राइविंग अनुभव प्रदान करते हैं।

केवाईटीओ ग्रीन टेक्नोलॉजीज लिमिटेड के प्रबंध निदेशक ग्रेसन रिचर्ड्स ने कहा कि इस क्षेत्र में अपनी तरह की विशेषताओं के साथ आने वाले यह पहले ई-ऑटो हैं, जैसे हेडरेस्ट और 3-प्वाइंट सीटबेल्ट के साथ ऑटोमोटिव ड्राइवर सीट, यात्रियों की सुरक्षा के लिए हाई बैक और 2-पॉइंट सीटबेल्ट्स के साथ फोमयुक्त पिछली सीट और कम प्रभाव वाली टक्कर को सहने के लिए कोलैप्सिबल क्रश स्ट्रक्चर के साथ स्टील रीयर बम्पर। (हि.स.)

Tags:    

Swadesh Digital ( 7142 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top