Home > Lead Story > दूसरे चरण में गुरुवार को तय होंगे सियासी दिग्गजों के साथ सेलेब्रिटी चेहरों के भाग्य

दूसरे चरण में गुरुवार को तय होंगे सियासी दिग्गजों के साथ सेलेब्रिटी चेहरों के भाग्य

दूसरे चरण में गुरुवार को तय होंगे सियासी दिग्गजों के साथ सेलेब्रिटी चेहरों के भाग्य

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर गुरुवार को मतदान होगा। इस मतदान में सियासी दिग्गजों के साथ सेलेब्रिटी चेहरों का भी भाग्य तय होगा।

दूसरे चरण में नगीना (सुरक्षित), अमरोहा, बुलंदशहर (सुरक्षित), अलीगढ़, हाथरस (सुरक्षित), मथुरा, आगरा (सुरक्षित) और फतेहपुर सीकरी के लिए सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक वोट डाले जाएंगे। शांतिपूर्ण मतदान के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल0 वेंकटेश्वर लू के अनुसार दूसरे चरण के मतदान में और बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करायी जाएंगी। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण के मतदान के अनुभवों के आधार पर बेहतर चुनाव प्रबंधन की व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश अधिकारियों को दिए गए हैं।

गौरतलब है कि प्रथम चरण में प्रदेश की आठ सीटों पर 11 अप्रैल को मतदान हुआ था। इसके बाद मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने मतदान को लेकर पुनः समीक्षा बैठक की थी और अधिकारियों को अगले चरण के मतदानों में बेहतर व्यवस्था के निर्देश जारी किए थे।

दूसरे चरण में कुल 87 उम्मीदवार

दूसरे चरण की आठ सीटों के लिए कुल 87 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। इनमें नगीना सीट से सात, अमरोहा में दस, बुलंदशहर में नौ, अलीगढ़ में 14, हाथरस में आठ, मथुरा में 13, आगरा में 11 और फतेहपुर सीकरी में 15 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।

1.40 करोड़ मतदाता

द्वितीय चरण के संसदीय क्षेत्रों में मतदाताओं की कुल संख्या 1.40 करोड़ है, जिनमें 75.83 लाख पुरुष, 64.92 लाख महिला और 878 तृतीय लिंग के मतदाता हैं। इन निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 8751 मतदान केंद्र तथा 16162 मतदेय स्थल स्थापित किए गए हैं।

कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

दूसरे चरण के मतदान में कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। इनमें सिने स्टार हेमा मालिनी और राज बब्बर के चुनाव मैदान में होने से सियासत में ग्लैमर का तड़का नजर आ रहा है। प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री प्रो0 एसपी सिंह बघेल और कई निवर्तमान सांसदों की भी प्रतिष्ठा दांव पर है। हाथरस से पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामजी लाल सुमन भी इस चरण के चुनाव मैदान में हैं। इसके अलावा राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) मुखिया और पूर्व केंद्रीय मंत्री चैधरी अजित सिंह और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व वर्तमान में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह जैसे नेताओं का गढ़ होने के कारण इस चरण के चुनाव में भाजपा, सपा-बसपा-रालोद गठबंधन और कांग्रेस सभी की ताकत परखी जाएगी। पिछले चुनाव में इस चरण की सभी सीटों पर भाजपा का कब्जा था।

आलू होगा प्रमुख मुद्दा

प्रथम चरण का मतदान उत्तर प्रदेश की आठ सीटों पर 11 अप्रैल को हुआ था, जिसमें प्रमुख मुद्दा गन्ना था। दूसरे चरण के मतदान में आलू प्रमुख मुद्दा बन सकता है। दरअसल प्रदेश में दूसरे चरण के अधिकतर जिलों में आलू की खेती बहुतायद होती है। वैसे इस चरण में साफ-सफाई और गंदा पानी जैसे स्थानीय मुद्दे भी प्रभावकारी होते हैं। आगरा और मथुरा में यमुना की सफाई को भी मुद्दा बनाया जा रहा है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 7967 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top