Home > Lead Story > भाजपा सत्ता में आई तो ओडिशा को मॉडल राज्य बनायेंगे : अमित शाह

भाजपा सत्ता में आई तो ओडिशा को मॉडल राज्य बनायेंगे : अमित शाह

ओडिशा के लिए घोषणापत्र में पुरी को देश की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित करने के प्रति कटिबद्धता

भाजपा सत्ता में आई तो ओडिशा को मॉडल राज्य बनायेंगे : अमित शाह

भुवनेश्वर| भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आज भुबनेश्वर में महाप्रभु जगन्नाथ को नमन करते हुए ओडिशा के लिए भाजपा का घोषणापत्र जारी किया | घोषणापत्र में पुरी को देश की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित करने के प्रति कटिबद्धता भी जताई। शाह ने कहा कि ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी को पूर्ण बहुमत मिलना निश्चित है और राज्य में परिवर्तन भी सुनिश्चित है। ओडिशा को उत्कर्ष पर ले जाने से अब कोई रोक नहीं सकता। ओडिशा में बौद्धिक और सांस्करासत के साथ-साथ राजस्व बढ़ने की असीम संभावनाएं हैं, लेकिन यहाँ की संभावनाओं को आज तक 'एक्सप्लोर' नहीं किया गया। उन्होंने कहा कि बरसों तक ओडिशा में कांग्रेस की आलसी व भ्रष्टाचारी सरकार ने शासन किया और ओडिशा के विकास के लिए कुछ भी नहीं किया। कांग्रेस की सरकार से निजात पाने और राज्य में विकास व बदलाव लाने के लिए ओडिशा की जनता ने कांग्रेस-बीजद की सरकार बनाई और राज्य की बागडोर नवीन पटनायक के हाथों सौंप दी | लेकिन 19 साल तक नवीन पटनायक ने जिस तरह से ओडिशा में सरकार चलाई, वह कांग्रेस से भी बदतर रही है। जिस परिवर्तन की चाह में ओडिशा की जनता ने बीजद के हाथों अपना भविष्य सौंपा था, आज वह ठगा महसूस कर रही है। बीजद सरकार में दूरदर्शिता का अभाव, आलस्य, भ्रष्टाचार और सत्ता भोग की चाह है जिसने ओडिशा को बर्बाद करके रख दिया है।

बीजद सरकार पर हमला करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह ने कहा कि नवीन पटनायक सरकार ने ओडिशा में लोकतंत्र का गला घोंटने का काम किया है। विरोध की हर आवाज को दबाकर और सहयोगियों के साथ विश्वासघात करके नवीन पटनायक ने ओडिशा में गलत राजनीतिक संस्कृति की शुरुआत की है। खदानों के आवंटन में नियमों को ताक पर रखकर, चिटफंड में भ्रष्टाचार और चुने हुए जन-प्रतिनिधियों का अधिकार छीनकर बाबुओं के हाथ में सत्ता की चाभी सौंपकर नवीन पटनायक ने लोकतंत्र का अपमान किया है। दरअसल आगे नवीन पटनायक का मुखौटा है लेकिन सरकार बाबू लोग चला रहे हैं।

शाह ने कहा कि आज देश के कोने-कोने से एक ही आवाज सुनाई देती है और वह है - मोदी, मोदी, मोदी। केंद्र में प्रचंड बहुमत से 'फिर एक बार, मोदी सरकार' बनने जा रही है। मैं ओडिशा की जनता से करबद्ध निवेदन करने आया हूँ कि आप ओडिशा में एक ऐसी सरकार बनाएं जो मोदी सरकार से संघर्ष न करे बल्कि समन्वय के साथ राज्य को विकास के पथ पर अग्रसर करे। ओडिशा की जनता राज्य में एक ऐसी सरकार बनाए जो केवल राजनीति के चलते गरीब-कल्याण की योजनाओं को प्रदेश में लागू करने में अवरोध उत्पन्न न करे, राज्य के विकास की गति में बाधक न बने | यह ओडिशा में बनने वाली केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी की सरकार ही कर सकती है। उन्होंने कहा कि राज्य की जनता में नवीन पटनायक सरकार के खिलाफ आक्रोश है। वे एक ऐसी सरकार चाहते हैं जो राज्य की गौरवशाली संस्कृति को राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय, दोनों मंचों परओडिशा को प्रतिष्ठित कर सके। नवीन बाबू तो 19 साल में ऐसा नहीं कर पाए, कांग्रेस पार्टी का शासन राज्य की जनता ने देखा ही है, यह केवल और केवल भारतीय जनता पार्टी ही कर सकती है।

भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि चाहे पीने का पानी हो, आवास हो, स्वास्थ्य हो, बिजली हो, शिक्षा हो या महिला सुरक्षा - हर मामले में ओडिशा राष्ट्रीय औसत में कहीं पीछे है। उन्होंने कहा कि उत्कल भूमि में इतनी संपदा है कि देश के कई बजट ओडिशा अकेले बना सकता है लेकिन क्या कारण है कि ओडिशा विकास में इतना पीछे रहा है? शाह ने कहा कि विगत कुछ दिनों में कला, राजनीति, खेल - सभी क्षेत्रों से कई अच्छे लोग भारतीय जनता पार्टी के साथ जुड़े हैं। ओडिशा की जनता एक ऐसी सरकार चुने जिसका विकास और गरीबी उन्मूलन ही एकमात्र एजेंडा हो।

ओड़िशा के लिए भारतीय जनता पार्टी के संकल्प पत्र, घोषणापत्र की चर्चा करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि हमारा घोषणापत्र नौ बिंदुओं पर आधारित है, जो ओडिशा के विकास के स्तंभ हैं। उन्होंने कहा कि ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर बलात्कारियों को बड़ा अर्थदंड दिया जाएगा। बारहवीं की शिक्षा के बाद मेधावी छात्रों को दोपहिया वाहन मुफ्त दिया जाएगा। किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर किसानों को खेती के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाएगा। लगभग एक लाख करोड़ रुपये के निवेश से ओडिशा में सिंचाई की सुविधा को हर खेत तक पहुंचाने का प्रबंध किया जाएगा। सूक्ष्म सिंचाई को प्राथमिकता दी जायेगी। किसानों की आय को 2022 तक दोगुना करने के लिए हर संभव कदम उठाये जायेंगे तथा राज्य के लघु एवं मध्यम किसानों को 60 वर्ष की आयु के बाद 3000 रुपये की मासिक पेंशन उपलब्ध कराई जायेगी।

शाह ने कहा कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनते ही दो वर्ष के भीतर-भीतर राज्य सरकार में रिक्त सभी स्थानों पर बहाली की जायेगी। केजी से पीजी तक, सभी गरीबों को मुफ्त शिक्षा उपलब्ध कराई जायेगी। लगभग 3500 करोड़ के स्किल फंड से 20 लाख युवाओं का स्किल डेवलपमेंट किया जाएगा। लगभग 9000 करोड़ रुपये की लागत से स्टार्ट-अप फंड तैयार किया जाएगा जिसके माध्यम से ओड़िया युवाओं को एक ऐसा मंच उपलब्ध कराया जाएगा ताकि वे विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्द्धा कर सकें।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि आदिवासियों का विकास भारतीय जनता पार्टी की हमेशा से प्रतिबद्धता रही है। राज्य में भाजपा की सरकार बनने पर आदिवासी बंधुओं के पट्टे का पांच साल में समयबद्ध निस्तारण किया जाएगा। वन्य ऊपज को भी समर्थन मूल्य पर खरीदने के लिए नये सेंटर्स बनाए जायेंगे। तेंदुपत्ता पर लगने वाले जीएसटी के रिफंड की व्यवस्था की जायेगी। 2022 तक ओडिशा में एक भी घर ऐसा बचा नहीं रहेगा जहां पानी, बिजली, शौचालय और पक्का छत न हो। एससीबीसी और ओबीसी वर्ग को उनका संवैधानिक अधिकार दिया जाएगा और सामान्य वर्ग के छात्रों/युवाओं के लिए 10 फीसदी आरक्षण को कड़ाई से लागू किया जाएगा। खनिज संसाधन, मानव संसाधन, कृषि संपदा और राज्य की भौगोलिक स्थिति का इस्तेमाल करते हुए ओडिशा को इस्पात, एल्यूमीनियम, पेट्रोकेमिकल, फार्मा, टैक्सटाइल, ऑटोमोबाइल और फ़ूड प्रोसेसिंग में नंबर वन बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में पांच साल में ओडिशा को देश के टॉप फाइव राज्य में शामिल किया जाएगा और निवेश के डेस्टिनेशन के रूप में इसे विकसित किया जाएगा। राज्य में भाजपा की सरकार बनने पर आयुष्मान भारत योजना को शत-प्रतिशत लागू किया जाएगा। ओडिशा से कपोषण को जड़ से उखाड़ फेंकने के लिए नए मिशन की शुरुआत की जायेगी। हर जिले में एक मेडिकल कॉलेज की स्थापना की जायेगी। एकीकृत आपातकालीन प्रतिक्रया हॉटलाइन 112 की स्थापना की जायेगी। साथ ही, गर्भवती माताओं के लिए 2000 नई एम्बुलेंस सेवा की शुरुआत की जायेगी।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि राज्य में भाजपा की सरकार बनने पर नगरीय क्षेत्र के विकास के लिए लगभग 35,000 करोड़ रुपये की लागत से नेताजी सुभाष चंद्र बोस के नाम पर योजना शुरू की जायेगी। लगभग 1500 करोड़ रुपये के बजट से राज्य में 15 नए स्मार्ट सिटी का विकास किया जाएगा। कटक-भुबनेश्वर मेट्रो सेवा की शुरुआत की जायेगी और कोस्टल हाइवे पर चल रहे कार्य को भ्रष्टाचार से मुक्त करके इसे और गति दी जायेगी। ओडिशा में बनने वाली भारतीय जनता पार्टी सरकार केंद्र की मोदी सरकार के सहयोग से राज्य के सभी 30 जिलों तक रेलवे को विस्तारित करेगी। कम-से-कम 15 नए पोर्ट बनाए जायेंगे।

शाह ने कहा कि ओडिशा में संस्कृति और पर्यटन के विकास की हमारी कटिबद्धता रही है। महान स्वतंत्रता सेनानी बख्शी जगबन्धु के सम्मान में एक विश्वस्तरीय संग्रहालय का निर्माण किया जाएगा और उनकी एक भव्य प्रतिमा स्थापित की जायेगी ताकि आने वाली पीढ़ियाँ उनसे प्रेरणा ले सकें। पर्यटन स्किल फंड की स्थापना की जायेगी जिससे लगभग पांच लाख रोजगार का सृजन होगा। लगभग 15 नए पर्यटन सर्किट ओडिशा में डेवलप किये जायेंगे।

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि महाप्रभु की नगरी पुरी केवल ओडिशा का ही नहीं, बल्कि पूरे देश की सत्ता का केंद्र है। नवीन पटनायक की सरकार भगवान महाप्रभु का रत्न भंडार तक नहीं संभाल पाए। ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी की सकरार बनने पर पुरी को देश की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में विकसित किया जाएगा। हम 'पुजारी बंधु योजना' लेकर आयेंगे जिसके तहत ओडिशा के हर पुजारी को हर माह 1000 रुपये का मानदेय दिया जाएगा।

शाह ने कहा कि ओडिशा में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर मुख्यमंत्री हर बुधवार को दो घंटे की जन-सुनवाई करेंगे जिसका निस्तारण केवल 30 दिनों में किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि ओडिशा में भाजपा की सरकार बनती है तो चिटफंड घोटाले के आरोपितों को बख्शा नहीं जाएगा, क़ानून के दायरे में हर आरोपित जेल की सलाखों के पीछे पहुंचाया जाएगा। अवैध खनन के घोटाले के अभियुक्तों पर भी कड़ी कार्रवाई की जायेगी ताकि आगे से इस तरह की और कोई घटना न हो। ग्रेड III और ग्रेड IV को इंटरव्यू से मुक्त कर पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया सुनिश्चित की जायेगी।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यह संकल्प पत्र नए ओडिशा के लिए भाजपा का संकल्प है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में अगले पांच वर्षों में ओडिशा को एक मॉडल स्टेट के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने राज्य की जनता से आग्रह करते हुए कहा कि आप एक ऐसा मुख्यमंत्री ओडिशा को दीजिये जो ओड़िया भाषा सही से बोल पाए और जो आपके दुःख-दर्द को समझे, जो स्वयं आपके कल्याण के लिए निर्णय ले पाए, इसके लिए अधिकारियों पर ही निर्भर न रहे।

इस अवसर पर भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता विश्व भूषण हरिचंदन जी, जिनकी देखरेख में ओडिशा भाजपा का घोषणापत्र तैयार हुआ है, ने आयोजन में मुख्य भूमिका निभायी | साथ में केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान, जुएल उरांव, पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव एवं ओडिशा के प्रभारी अरुण सिंह एवं कई अन्य गणमान्य नेता उपस्थित थे।

Tags:    

Swadesh Digital ( 9454 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top