Top
Home > Lead Story > अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से पांच साल तक किये सिर्फ झूठे वादे : शाह

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से पांच साल तक किये सिर्फ झूठे वादे : शाह

अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से पांच साल तक किये सिर्फ झूठे वादे : शाह

नई दिल्ली। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने सोमवार को रिठाला और जनकपुरी विधानसभा क्षेत्रों में दो चुनावी रैलियों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि राजनीति करने वाले तो बहुत देखे हैं, मगर ओछी और नीची राजनीति करने वाला ऐसा मुख्यमंत्री मैंने अपने जीवन में नहीं देखा। दिल्ली के करोड़ों निर्धन लोगों को पांच लाख की आयुष्मान भारत योजना से उन्होंने अलग-थलग कर दिया। शाह ने कहा कि केजरीवाल ने जनता से वादा किया था कि जब आम आदमी पार्टी (आप) सत्ता में आएगी तो हम 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाएंगे, लेकिन आज तक पूरी दिल्ली में सीसीटीवी नहीं लगे। हालांकि कुछ स्थानों पर लगाकर जनता को गुमराह करने में लगे हुए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पांच साल तक केजरीवाल ने दिल्ली की जनता से सिर्फ झूठे वादे किये।

शाह ने कहा कि केजरीवाल ने पांच हजार नई बसें खरीदने की बात कही थी, लेकिन नई तो आई नहीं ऊपर से 1100 बसें और कम कर दीं। केजरीवाल ने अस्थाई कर्मचारियों को स्थाई करने का वादा किया था, लेकिन आज तक एक भी कर्मचारी को स्थाई नहीं किया। केजरीवाल सरकार ने फ्री वाई-फाई देने का वादा किया था, उसको भी पूरा नहीं किया। उन्होंने दिल्ली की सड़कों को यूरोपीय देशों की सड़कों की तरह बनाने का वादा किया था, लेकिन यह कार्य भी नहीं कर सके। मैं खुद आज उन्हीं सड़कों से आया हूं, लेकिन कहीं भी यूरोपीय देशों वाली सड़कें दिखाई नहीं दीं। उल्लेखनीय है कि भाजपा ने रिठाला और जनकपुरी विधानसभा क्षेत्र से क्रमशः मनीष चौधरी और आशीष सूद को चुनाव मैदान में उतारा है।

भाजपा के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शाह ने कहा कि केजरीवाल ने पांच साल में यमुना नदी को साफ करने का वादा किया था। दिल्ली वालों को साफ यमुना नदी का आज तक इंतजार है। केजरीवाल को नदियां कैसे साफ करनी चाहिए, यह केंद्र सरकार से सीखना चाहिए। शाह ने कहा कि केजरीवाल ने चुनाव से पहले कहा था कि सत्ता में आए तो सरकारी बंगला, सरकारी गाड़ी नहीं लेंगे, लेकिन शपथ लेने के बाद खूब सरकारी गाड़ियों में धूमे हैं और सरकारी बंगले का लाभ लिया।

उन्होंने कहा कि रिठाला के अंदर कैसे सारी अनधिकृत कॉलोनियां हुआ करती थीं, लेकिन मोदी सरकार ने अब उन्हें अधिकृत कर दिया है। 2015 में प्रधानमंत्री मोदी ने केजरीवाल सरकार को एक पत्र लिखा और उसमें कहा था कि दिल्ली की 1,731 अनधिकृत कॉलोनियों को आप मुझे दे दो, मैं उन्हें अधिकृत बनाऊंगा, लेकिन उन्होंने राजनीति के चलते नहीं दिया और कहा कि अभी नक़्शे बन रहे हैं, दो साल लगेंगे, फिर 2017 में मोदी ने पत्र लिखा तब भी केजरीवाल सरकार ने कहा कि अभी दो साल और लगेंगे, लेकिन इस बार मोदी ने प्रधानमंत्री बनाते ही दिल्ली की अनधिकृत कॉलोनियों को अधिकृत करने का काम किया। उन्होंने जनता से अपील की कि आठ तारीख को केजरीवाल सरकार बदल दो, मैं आपसे वादा करता हूं कि जहां झुग्गी है, वहीं मकान देने का काम मोदी सरकार करेगी।

केंद्रीय गृहमंत्री शाह ने कहा कि मैं केजरीवाल से पूछना चाहता हूं कि दिल्ली के गरीबों का क्या दोष था कि आपने जो पांच लाख रुपये की सहायता मोदी जी उनको देना चाहते थे, उसे उनसे छीन लिया। उनके मन में भय था कि अगर किसी गरीब का फ्री ऑपरेशन हो जाएगा तो दिल्ली का गरीब नरेंद्र मोदी के साथ जुड़ जाएगा। उन्होंने कहा कि मैं केजरीवाल की किसी भी योजना को लेकर कटाक्ष करता हूं तो वह तुरंत ट्विटर पर जवाब देते हैं। आज मेरे इस सवाल का जवाब भी दे देना कि आप भारत माता के टुकड़े करने वाले टुकड़े-टुकड़े गैंग को जेल में डालने की परमिशन दे रहे हो या नहीं? जरा एक बार दिल्ली की जनता को ये बताइए? उन्होंने कहा कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक प्रताड़ना झेल रहे अल्पसंख्यकों के लिए केंद्र सरकार नागरिकता संशोधन अधिनियिम (सीएए) लेकर आई तो केजरीवाल और विपक्षी दलों के लोग इसकी आलोचना कर रहे हैं। इस कानून को लेकर जनता को भ्रमित भी कर रहे हैं। विपक्षी दलों का यह रवैया दुर्भाग्यपूर्ण है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top