Home > स्वास्थ्य > गिलोय दुनिया की है, चमत्कारी औषधि

गिलोय दुनिया की है, चमत्कारी औषधि

गिलोय दुनिया की है, चमत्कारी औषधि

हेल्थ डेस्क। गिलोय दुनिया की चमत्कारी औषधि है। यह हर प्रकार के बुखार में अमृत का काम करती है। इसका प्रयोग हर प्रकार से निरापद है। यह धरती पर अमृत के समान है। इसका प्रयोग व्यक्ति को निरापद रूप से करना चाहिए। गिलोय की पत्त‍ियों में कैल्शि‍यम, प्रोटीन, फॉस्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है।इसके अलावा इसके तनों में स्टार्च की भी अच्छी मात्रा होती है। गिलोय का इस्तेमाल कई तरह की बीमारियों में किया जाता है। ये एक बेहतरीन पावर ड्रिंक भी है। ये इम्यून सिस्टम को बूस्ट करने का काम करता है, जिसकी वजह से कई तरह की बीमारियों से सुरक्षा मिलती है।

हम आपको बता दें कि डेंगू में व्यक्ति को बुखार लगातार आता है, सिर में तेज दर्द होता है, भूख कम तथा उल्टियां लग जाती है तथा संपूर्ण शरीर में तेज दर्द महसूस होता है। उन्होंने कहा कि डेंगू में गिलोय का प्रयोग अमृत का काम करता है। गिलोय की एक फीट लंबी डंडी लेकर उसके छोटे-छोटे लेकर टुकडे कर दो कप पानी में उबालकर आधा कप रहने पर गुनगना करके सुबह सायं खाली पेट पीना चाहिए। इसका रस निकालकर भी पी सकते है। गिलोय वटी का भी प्रयोग कर सकते है। इसके साथ-साथ पपीते के पत्तों का रस एक से दो चम्मच खाली पेट पीने से प्लेटलस की संख्या की बढ़ जाती है जो कि डेंगू की वजह से कम हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि रोगी को अनार, ज्वरनाशक काढा व बकरी का दूध भी प्रयोग तथा नियमित रूप से योगाभ्यास करना चाहिए। गिलोय हर प्रकार के बुखार के साथ साथ शूगर ,जुकाम, मोटापा में भी कारगर सिद्ध होती है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 7967 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top