Home > राज्य > मध्यप्रदेश > गुना > राहुल बताएंगे, कौन, कहां से लड़ेगा: चतुर्वेेदी

राहुल बताएंगे, कौन, कहां से लड़ेगा: चतुर्वेेदी

राहुल बताएंगे, कौन, कहां से लड़ेगा: चतुर्वेेदी

बड़े नेताओं के कठिन सीट पर चुनाव लड़ने को लेकर गर्माया है मामला

गुना/निज प्रतिनिधि। कांग्रेस में बड़े नेताओं द्वारा अपना गढ़ छोडक़र कठिन सीट से चुनाव लडऩे को लेकर गर्माया मामला फिलहाल ठंडा पड़ता नहीं दिख रहा है। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अपने गृह जिले की राजगढ़ संसदीय सीट छोड़क़र भोपाल से चुनाव लडऩे पर राजी हो गए है, वहीं अब कांग्रेस के एक ओर क्षत्रप कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया पर भी अपनी परंपरांगत शिवपुरी-गुना सीट छोडक़र अन्य कठिन सीट से चुनाव लड़ने का दबाव बन रहा है। यहीं कारण है कि कांग्रेस की इस सुरक्षित सीट को फिलहाल प्रत्याशी चयन में होल्ड पर रखा गया है। गुरुवार को न्याय योजना की जानकारी देने गुना आए कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता पकंज चतुर्वेदी के समक्ष जब इस मुद्दे को उठाया गया तो उन्हे पहले तो उनके द्वारा सवाल को ही यह कहकर खारिज करने की कोशिश की गई कि ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है, इसके पश्चात जब उन्हे मुख्यमंत्री कमलनाथ सहित अन्य नेताओं के बयान स्मरण कराए गए तो उनका कहना रहा कि कांग्रेस में राहुल बताएंगे कि कौन-कहाँ से चुनाव लड़ेगा। सीट छोड़ना कोई मुद्दा नहीं है। उन्होने अपनी बात में यह भी जोड़ा कि दिग्विजय सिंह द्वारा भोपाल से चुनाव लडऩे पर हामी के बाद भाजपा को यहां कोई प्रत्याशी ही नहीं मिल रहा है। शिवराज सिंह सहित अन्य नेता मैदान छोड़ रहे है। इस मौके पर श्रम मंत्री महैन्द्र सिंह सिसौदिया, प्रदेश कांग्रेस महासचिव योगेन्द्र लुम्बा, जिला कांग्रेस अध्यक्ष विठ्ठलदास मीना, टिल्लू रघुवंशी, मान सिंह परसौदा, रक्षित सिंह विशेष रुप से मौजूद रहे।

47 साल में बेरोजगारी दर सर्वाधिक

कांग्रेस प्रवक्ता ने न्याय योजना की विस्तृत जानकारी देते हुए कहा इस योजना से से किसी भी तरह का राजकोषीय घाटा नहीं होगा। सभी सामाजिक योजनाएं व सब्सिडी जारी रहेगी, योजना पर छह माह से काम किया जा रहा है। इसके लिए पी चिदंबरम की अध्यक्षता में कमेटी बनाई गई थी। उन्होंने कहा किमोदी सरकार की नीतियों के कारण देश के युवा और किसान परेशान है। ४७ सालों में बेरोजगारी दर सर्वाधिक रही। इसलिए कांग्रेस ने न्याय योजना के तहत हर परिवार की आय 12 हजार रुपए मासिक तक करने की योजना बनाई है। इसके तहत चिंहित परिवारों को छह हजार रुपए महीना दिया जाएगा। उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार के सर्वे के मुताबिक देश के 20 प्रतिशत यानी करीब ५ करोड़ परिवारों की औसत मासिक आय 6 हजार रुपए है। उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार ने कई योजनाओं के आंकड़े जारी नहीं किए।

25 लाख 50 हजार किसानों का कर्ज माफ

श्री चतुर्वेदी ने जय किसान फसल ऋण माफी योजना को लेकर कहा कि देश में 50 लाख किसानों का कर्ज माफ होना था। इसमें से 20 लाख 50 हजार किसानों का कर्ज माफ कर दिया गया है। शेष के लिए आचार संहिता के बाद दोबारा कार्रवाई शुरू की जाएगी। पंकज चतर्वेदी ने बताया कि न्याय योजना की राशि परिवार की महिला के खाते में डाली जाएगी। इसके साथ ही कांग्रेस महिला सशक्तिकरण की ओर बढ़ते हुए महिला आरक्षण बिल भी पास करवाएगी। शिक्षा, स्वास्थ्य व रोजगार के लिए बजट भी बढ़ाया जाएगा।

Naveen ( 1696 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top