Home > राज्य > मध्यप्रदेश > गुना > पुलिस के हत्थे चढ़े चार ईनामी बदमाश

पुलिस के हत्थे चढ़े चार ईनामी बदमाश

पुलिस के हत्थे चढ़े चार ईनामी बदमाश

-निज प्रतिनिधि-

गुना। लंबे समय से फरार चल रहे चार ईनामी बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़े है। पकड़े गए बदमाशों में दो कुख्यात है, जिनकी पुलिस पर जानलेवा हमले सहित चार जघन्य हत्याओं में पुलिस को तलाश थी। चारों आरोपियों पर कुल 64 हजार का ईनाम घोषित था। बदमाशों को जिले की धरनावदा पुलिस ने दो दबिश में पकड़ा है। एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि तीन बदमाश गढ़ा घाटी पर गुना-फतेहगढ़ मार्ग सदे निकलने वाले वाहनों को लूटने की योजना बना रहे थे। दबिश के दौरान अन्य चार बदमाश फरार हो गए।

3 पकड़े, 4 भागे

धरनावदा पुलिस ने थाना प्रभारी नीरज बिरथरे के नेतृत्व में बीती रात गढ़ा घाटी पर दबिश दी। इस दौरान पुलिस ने सीताराम पारदी, अनिल पारदी और जय पारदी को पकड़ा। बदमाशों के कब्जे से एक 315 बोर का देशी कट्टा, 2 जिंदा राउंड, मोटरसाइकल, रांपी, रस्सी और टॉर्च बरामद की गई। दबिश के दौरान बदमाशों के चार साथी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। जिनकी पुलिस तलाश कर रही है।

चार साथियों की हत्या

एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि पकड़े गए बदमाशों में सीताराम पारदी ने कनेरा में रेवत पारदी, हेमराज पारदी, रज्जू पारदी एवं सोहन पारदी की जघन्य हत्या की थी। यह सभी सीतााराम के ही साथी थी। इसके साथ ही बदमाश ने अपने साथी अनिल पारदी के साथ मिलकर एसआईटी टीम पर भी हमला किया था। जिसमें आरक्षक मनोज रघुवंशी गोली लगने से घायल हो गए थे। सीताराम पर 40 हजार, एवं 10 हजार एवं अनिल पर 10 हजार का ईनाम घोषित किया गया था। एक अन्य आरोपी जय पारदी की हिरण के शिकार के मामले में तलाश थी।

विभिन्न प्रदेशों में काटी फरारी

एसपी ने बताया कि तीनों बदमाश शातिर है, जिनके खिलाफ लूट, हत्या, डकैती आदि के कई मामले दर्ज है। गिरफ्तारी से बचने बदमाश बिहार, गुजरात और झारखंड में फरार रहे है। एसपी ने उम्मीद जताई है कि उक्त बदमाशों से पूछताछ के दौरान कई अन्य वारदातों का खुलासा हो सकता है। साथ ही उनके अन्य साथी भी पकड़े जा सकते है।

एक चोर को भी पकड़ा

धरनावदा पुलिस ने दूसरी कार्रवाई में शहर कोतवाली के फरार एक चोर सोनू पारदी को भी पकड़ा है। उक्त बदमाश दुर्गा कॉलोनी में तीन साल पहले हुई इंद्रजीत सिंह सिख के यहां हुई चोरी के मामले में शामिल थे। चोरी मे ं 315 बोर की बंदूक एवं अन्य सामान चोरी हुआ था। मामले के अन्य आरोपी पहले ही पकड़े जा चुके है।

Naveen ( 1337 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top