Home > राज्य > मध्यप्रदेश > गुना > 746 का पंजीयन, 123 की काउंसिलिंग

746 का पंजीयन, 123 की काउंसिलिंग

746 का पंजीयन, 123 की काउंसिलिंग

मेले में उमड़े बेरोजगार, 572 आवेदकों का प्रारंभिक चयन

-निज प्रतिनिधि-

गुना। बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में आयोजित किए गए कॅरियर अवसर मेले में मंगलवार को युवाओं की भारी भीड़ उमड़ी। मेले में 746 युवाओं ने अपनी पंजीयन कराया, जिनमें से 123 की काउंसिलिंग की गई, वहीं 572 आवेदकों का प्रारंभिक चयन होना बताया गया है। इनमें युवकों के साथ ही युवतियों की संख्या भी उल्लेखनीय रही। मेले का शुभारंभ कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार ने किया।

अव्यवस्थाओं का दिखा आलम

मेले में अव्यवस्थाओं का आलम देखने को मिला। उज्जवल भविष्य के सपने अपनी आँखों में संजोकर मेले में आए युवाओं को पहले तो पंजीयन के लिए ही परेशान होना पड़ा। फिर मेले में आईं कंपनियों ने भी काउंसिलिंग के नाम पर महज औपचारिकता प्रदर्शित की। मेले मे आईसीआईसीआई बैंक मध्य प्रदेश छत्तीसगढ ने 21, एसबीआई क्रेडिट कार्ड ग्वालियर ने 11, जस्ट डापल ने 90, स्टर हेल्थ इंश्योरेंस गुना 10, टेली एनजी एकाउंट 45, प्रधानमंत्री कौशल विकास केन्द्र 50, आईएलएण्डएफ.एस गैल गुना 120, टिकोना ब्राडवेंड भोपाल- इंदौर 15, होम क्रेडिट फाइनेंस बैंगलोर 23, रिलार्डवल फर्क्ट अहमदाबाद गुपराह20, मेगनम ग्रुप भोपाल 18, स्टार इंडिया मार्केट रिसर्च इंदौर 60, ईगम सिक्यूरिटी सर्विस शिवपुरी ने 48, भारतीय जीवन बीमा निगम गुना ने 20 तथा हिन्दुपथ औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान राघौगढ़ ने 21 युवाओं का प्रारंभिक चयन किया। इस प्रकार कुल 15 कंपनी द्वारा 572 आवेदकों का प्रारंभिक चयन किया गया। मेले में इन कंपनियों के अलावा जिले में स्थित व्यवसायिक एवं प्रशिक्षण संस्थान ओमकार कॉलेज, 35 वाहिनी एनसीसी शिवपुरी, आलाप एकेडमी एवं डीडीयू ने भाग लिया

मेले में प्रदर्शनी लगी

मेले में जिला रोजगार कार्यालय द्वारा कैरियर प्रदर्शनी का आयोजन किया गया।

योग्यता एवं क्षमतानुसार कॅरियर का निर्धारण करें : कलेक्टर

मेले कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार ने युवाओं को संबोधित करते हुए कहा कि वे अपनी रूचि, योग्यता एवं क्षमतानुसार कॅरियर का निर्धारण करें। सार्वजनिक क्षेत्रों में कैरियर के सीमित अवसर हैं। ऐसी स्थिति में निजी क्षेत्र एवं स्वरोजगार एक बेहतर विकल्प है। इस मौके पर उन्होंने महाविद्यालय प्रशासन को सुझाव भी दिया कि ऐसे युवा जो कैरियर मार्गदर्शन लेना चाहते हैं, का ग्रुप बनाएं जो स्वैच्छिक रूप से मार्गदर्शन देने में रूचि रखते हैं, वे उनका सहयोग करें। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक राहुल कुमार लोढ़ा, पूर्व प्राचार्य डॉ. सुरेश कुमार शर्मा एवं प्राचार्य डॉ. बी.के. तिवारी मौजूद थे।

Naveen ( 1696 )

Swadesh Contributors help bring you the latest news and articles around you.


Share it
Top