Home > मनोरंजन > कमल हासन के बयान पर विवेक ओबेरॉय बोले - देश को न बांटें, हम सब एक

कमल हासन के बयान पर विवेक ओबेरॉय बोले - देश को न बांटें, हम सब एक

कमल हासन के बयान पर विवेक ओबेरॉय बोले - देश को न बांटें, हम सब एक

मुंबई। अभिनेता विवेक ओबेरॉय ने सोमवार को कमल हासन के उस बयान को लेकर निशाना साधा जिसमें उन्होंने कहा था कि 'पहला आतंकवादी एक हिंदू था।' विवेक ने कहा कि अभिनेता से नेता बने हासन को देश को नहीं बांटना चाहिए। 19 मई के लोकसभा चुनाव के लिए करूर जिले के अरवाकुरूची में रविवार को अपनी पाटीर् 'मक्कल नीधि मय्यम' के प्रत्याशी के लिए प्रचार कर रहे हासन ने रविवार को कहा, "आजाद भारत का पहला आतंकवादी 'नाथूराम गोडसे' एक हिंदू था।"

गोडसे ने 30 जनवरी, 1948 को गोली मारकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी। गांधी की हत्या के संदर्भ में हासन ने कहा, "मैं यहां उस हत्या का जवाब लेने के लिए आया हूं।" हासन की इस टिप्पणी का कई नेताओं ने विरोध किया है। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के समर्थक विवेक ओबेरॉय को भी यह बात अच्छी नहीं लगी।

ट्विटर पोस्ट में वरिष्ठ अभिनेता को, विवेक ने लिखा, "प्रिय कमल सर, आप महान कलाकार हैं। जैसे कला का कोई धर्म नहीं होता ठीक उसी प्रकार से आतंक का भी कोई धर्म नहीं होता! आप गोडसे को आतंकवादी बोल सकते हैं, आप उसे 'हिंदू' क्यों कहेंगे? यह इसलिए है क्योंकि आप मुस्लिम बहुल इलाके में वोट देख रहे हैं?" उन्होंने आगे कहा, "कृपा कर के, छोटा मुंह बड़ी बात, भारत को न बांटें, हम सब एक हैं, जय हिंद।"

मक्कल नीधि मैयम (एमएनएम) के संस्थापक कमल हासन ने यह कहकर नया विवाद खड़ा कर दिया है कि आजाद भारत का पहला ''आतंकवादी हिन्दू" था। वह महात्मा गांधी की हत्या करने वाले, नाथूराम गोडसे के संदर्भ में बात कर रहे थे। रविवार (12 मई) की रात तमिलनाडु के अरवाकुरिचि में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए हासन ने कहा कि वह एक ऐसे स्वाभिमानी भारतीय हैं जो समानता वाला भारत चाहते हैं।

उन्होंने कहा, ''मैं ऐसा इसलिए नहीं बोल रहा हूं कि यह मुसलमान बहुल इलाका है, बल्कि मैं यह बात गांधी की प्रतिमा के सामने बोल रहा हूं। आजाद भारत का पहला आतंकवादी हिन्दू था और उसका नाम नाथूराम गोडसे है। वहीं से इसकी (आतंकवाद) शुरुआत हुई।" महात्मा गांधी की 1948 में हुई हत्या का हवाला देते हुए हासन ने कहा कि वह उस हत्या का जवाब खोजने आये हैं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8868 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top