Top
Home > मनोरंजन > क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट्स और सीरिज अवार्ड्स 4 दिसंबर को

क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट्स और सीरिज अवार्ड्स 4 दिसंबर को

क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट्स और सीरिज अवार्ड्स 4 दिसंबर को

अपने पहले पैनल चर्चा के लिए पूरी तरह से है तैयार; नामांकित लोगों ने कुछ इस तरह बयां की अपनी खुशी!

वेब डेस्क। CCSSA इस वर्ष की विभिन्न श्रेणियों में नामांकन के बारे में अपने पहले-पैनल चर्चा के लिए बिल्कुल तैयार है। लेखक-निर्देशक जोड़ी राज और डीके जिन्होंने हमें "द फैमिली मैन" दी है, साथ ही 'मेड इन हैवन' से अर्जुन माथुर भी चर्चा का हिस्सा होंगे।

प्रफुल्लित अर्जुन ने साझा किया, "यह मेरे लिए बहुत बड़ा नामांकन है। देखिए मुझे किन दिग्गजों के साथ नामित किया गया है। इनमें से कोई भी अभिनेता फिल्मी पृष्ठभूमि से नहीं है और प्रत्येक ने धीरे-धीरे प्रतिभा, कड़ी मेहनत और धैर्य का प्रदर्शन करते हुए दर्शकों का दिल जीत लिया है। जहां तक भारत में पुरस्कारों की बात है, तो मुझे नहीं लगता कि इससे कुछ भी अधिक विश्वसनीय होगा। ये हमारे सर्वोच्च आलोचकों की राय है - जिन लोगों पर हम अपना भरोसा रखते हैं, सप्ताह दर सप्ताह, हमें यह तय करने में मदद करते हैं कि हमें क्या देखना चाहिए और क्या नहीं। लघु-फिल्मों और मूल श्रृंखला के लिए CCSSA जो मंच प्रदान कर रहा है वह वास्तव में शानदार है और विशेष रूप से इस समय बहुत आवश्यक है क्योंकि अब दर्शक मूल और आकर्षक कंटेंट देखने के लिए अधिक इक्छुक है। यहां तक कि सिर्फ इस पुरस्कार के लिए नामांकित होना ही मेरे लिए सबसे बड़ी जीत है।"

राज और डीके ने आगे कहा, "हम अपनी पहली श्रृंखला के लिए नामांकित होने के लिए बेहद रोमांचित महसूस कर रहे हैं। यह शुरुआत से ही एक महत्वाकांक्षी शो था, जिस पर हमने तीन वर्षों में बहुत मेहनत की है। इसलिए खुशी है कि इसे बहुत सराहा जा रहा है। CCSS अवार्ड्स फिल्म निर्माण के अच्छे और विभिन्न फॉरमेट को सहराने के लिए एक शानदार पहल है। लंबे और छोटे फॉरमेट दोनों को पहली बार पहचानने और इतनी विश्वसनीयता देने के लिए धन्यवाद!"

श्रृंखला "लिटिल थिंग्स" से ध्रुव सहगल भी अन्य लोगों के बीच पैनल का हिस्सा होंगे। लिटिल थिंग्स का दूसरा सीज़न भी इस साल के पुरस्कारों के लिए नॉमिनेशन का हिस्सा है।

फिल्म क्रिटिक्स गिल्ड प्रसिद्ध आलोचकों का एक पैनल है जो क्रिटिक्स चॉइस अवार्ड्स की कोर कमेटी का गठन करता है। साल 2018 में इसकी स्थापना के बाद से ही, क्रिटिक्स चॉइस अवार्ड्स ने कलाकारों को पुरस्कृत करने, उनके कला को सरहाने और कला के रूप में उनके योगदान के लिए लोकप्रियता हासिल कर ली है। एक पैन-इंडिया गिल्ड के रूप में, आलोचक यहाँ भाषाओं और भौगोलिक सीमाओं को दरकिनारे करते हुए, देश भर से सिनेमाई रत्नों को खोजने की दिशा में काम करते हैं।

यह वर्ष बेहद ख़ास है क्योंकि पैनल ने अपनी श्रेणियों में ओटीटी कंटेंट को जोड़ने का फैसला किया है जिसके माध्यम से अब अधिक से अधिक क़्वालिटी कंटेंट को पहचान मिलेगी।

द फैमिली मैन, मिर्जापुर, दिल्ली क्राइम, सेक्रेड गेम्स आदि कुछ ऐसे नाम हैं जिन्हें इस साल के पुरस्कारों के लिए नामांकित किया गया है। साथ ही शार्ट फिल्म अनुभाग में, टीम के पास कई क्षेत्रीय परियोजनाएं हैं, जिन्हें हिंदी, कन्नड़, बंगाली और मराठी में नामांकित किया गया है। नसीरुद्दीन शाह और कबीर साजिद जैसे उम्दा कलाकारों को उनके शानदार अभिनय के लिए नामांकित किया गया हैं।

दिसंबर 2018 में, फिल्म क्रिटिक्स गिल्ड और मोशन कंटेंट ग्रुप ने पहली बार क्रिटिक्स चॉइस शॉर्ट फिल्म अवार्ड्स की घोषणा की थी, जिसमें भारत के टॉप फिल्म क्रिटिक्स का पैनल शामिल किया गया था।

पुरस्कारों का पहला संस्करण आम जनता के बीच बेहद सफल साबित हुआ था और अब यह कहना सुरक्षित होगा कि इस बार, हमें पूरे देश में कलाकारों द्वारा प्रस्तुत किये जा रहे गुणवत्ता से लैस कंटेंट देखने मिलेगा।

Tags:    

Swadesh News ( 0 )

Swadesh Digital contributor help bring you the latest article around you


Share it
Top