Home > शिक्षा > कैरियर > कंप्यूटर या स्मार्टफोन के एप्प के माध्यम से भी परीक्षा की तैयारी

कंप्यूटर या स्मार्टफोन के एप्प के माध्यम से भी परीक्षा की तैयारी

सरकार ने जेईई और यूजीसी-नेट के लिए 622 जिलों में खोले 3406 टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर

कंप्यूटर या स्मार्टफोन के एप्प के माध्यम से भी परीक्षा की तैयारी

नई दिल्ली/स्वदेश वेब डेस्क। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने जेईई (मुख्य) और यूजीसी-नेट सहित उच्च शिक्षा की कंप्यूटर आधारित टेस्ट (सीबीटी) प्रवेश परीक्षा के अभ्यास के लिए रविवार को देश के 622 जिलों में 3406 टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर का उद्घाटन किया। छात्र इन टेस्ट प्रैक्टिस सेंटर पर हर शनिवार-रविवार को मुफ्त अभ्यास कर सकेंगे।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि जो परीक्षा पहले पेन और पेपर के माध्यम से होती थी वह अब कंप्यूटर आधारित होगी, क्योंकि अब सभी जगह पर कंप्यूटर उपलब्ध हो गया है। उन्होंने कहा कि कंप्यूटर या स्मार्टफोन पर इसका एप डाउनलोड करने की सुविधा रखी गई है ताकि एप के माध्यम से भी परीक्षा की तैयारी की जा सकती है। यह पूरी तरह से मुफ्त सुविधा है। ऐसे में जिनके पास निजी कंप्यूटर या फिर स्मार्टफोन नहीं हैं, ऐसे छात्रों के लिए देशभर में 622 जिलों में 3500 सेंटर खोले गए हैं।

उन्होंने कहा कि इन सेंटरों पर 2 लाख 72 हजार कंप्यूटर लगाए गए हैं। ऐसे में दो लाख 72 हजार छात्र एक साथ इस सुविधा का लाभ उठा सकेंगे। उन्होंने कहा कि अभी 50 हजार से ज्यादा छात्र आए हैं। सरकार इसका बड़े पैमाने पर प्रचार-प्रसार करेगी और पूरा विश्वास है कि जिनके घर या आसपास में यह सुविधा उपलब्ध नहीं है, वह इससे जुड़ेंगे।

दिल्ली में ऐसे 96 टीपीसी बनाए गए हैं। 10 जिलों में बने इन टीपीसी में कुल 7793 कंप्यूटर उपलब्ध हैं। सबसे अधिक उत्तर प्रदेश के 69 जिलों में 369 केंद्र बनाए गए हैं। इनकी क्षमता 24935 कंप्यूटर की है। इसके बाद 325 केंद्रों के साथ दूसरे स्थान पर महाराष्ट्र है। केरल 318 केंद्रों के साथ तीसरे स्थान पर है। मध्य प्रदेश 49 जिलों में 241 सेंटर के साथ चौथे स्थान पर है।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के स्थान पर अब नवगठित नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) जेईई और यूजीसी-नेट की परीक्षा आयोजित करेगा। अब यह परीक्षाएं पूरी तरह से कंप्यूटर आधारित होंगी। एनटीए द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार जेईई (मुख्य) परीक्षा अगले साल जनवरी में 6 से 20 के बीच होगी। इसके बाद यह परीक्षा अप्रैल में आयोजित की जाएगी और यह 6 से 20 अप्रैल के बीच होगी।

Tags:    

Swadesh News ( 5689 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top