Home > शिक्षा > कैरियर > आर्थिक आरक्षण से 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में बढ़ेंगे 4000 शिक्षकों के पद

आर्थिक आरक्षण से 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में बढ़ेंगे 4000 शिक्षकों के पद

आर्थिक आरक्षण से 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में बढ़ेंगे 4000 शिक्षकों के पद

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) को 10 प्रतिशत आरक्षण दिए जाने से नए शैक्षणिक सत्र में देशभर के 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में 4000 से अधिक पद सृजित होंगे। इसमें अकेले दिल्ली विश्वविद्यालय में ही करीब 3000 हजार पद होंगे।

सूत्रों के अनुसार 40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में स्वीकृत 17,092 शैक्षिक पदों में से 11,486 पदों को भरा गया है। इसमें 5606 पद पिछले कई वर्षों से खाली हैं। अब जब सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से पिछड़े अभ्यर्थियों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने से इन विश्वविद्यालयों में 4273 सीटों का इजाफा होगा तो ये सीटें विश्वविद्यालयों के विभागों में बढ़ेंगी और इन विश्वविद्यालयों के अंतर्गत सम्बद्ध कॉलेजों में सीटों का इजाफा रोस्टर के हिसाब से किया जाएगा।

देश के सबसे बड़े केंद्रीय विश्वविद्यालय डीयू में नए शैक्षणिक सत्र में प्रोफेसर, एसोसिएट प्रोफेसर और सहायक प्रोफेसर के 1706 स्वीकृत पद हैं। ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू होने के बाद 427 सीटें बढ़ जाएंगी। इसी तरह डीयू से सम्बद्ध कॉलेजों में 10 हजार से अधिक शिक्षक हैं। ईडब्ल्यूएस आरक्षण लागू होने पर इन कॉलेजों में 2500 सीटों की बढ़ोतरी होने की संभावना है। वर्तमान में 5000 शिक्षक तदर्थ रूप में कार्य कर रहे हैं। पिछले एक दशक से शिक्षकों की स्थायी नियुक्ति के न होने से प्रतिवर्ष तदर्थ शिक्षकों की संख्या बढ़ती जा रही है।

केंद्रीय विश्वविद्यालयों में शिक्षकों की सीटों को जल्द से जल्द भरने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय (एमएचआरडी) और विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) ने विश्वविद्यालयों को एक सर्कुलर जारी कर रोस्टर रिकास्ट कर पदों को भरने के निर्देश दिए हैं। यदि सभी केंद्रीय विश्वविद्यालय अपना रोस्टर रिकास्ट करके लायजन ऑफिसर से रोस्टर पास करा लेते हैं तो इन पदों को आगामी शैक्षिक सत्र से पहले विज्ञापित कर भरा जा सकता है।

40 केंद्रीय विश्वविद्यालयों में जहां सीटें बढ़ेंगी, उनके नाम हैं-

यूनिवर्सिटी /सीटें सीटों का इजाफा

दिल्ली यूनिवर्सिटी—1706- 427

जेएनयू --892 223

बीएचयू--1930 483

इलाहाबाद--852 213

जामिया मिल्लिया--827 207

हैदराबाद यूनिवर्सिटी--572 143

गुरु घासीदास विश्वविद्यालय--435 109

हरिसिंह गौर विवि--345 86

मणिपुर यूनिवर्सिटी--347 87

नार्थ ईस्ट हिल विश्वविद्यालय --445 111

पांडिचेरी यूनिवर्सिटी--489 122

हेमवतीनंदन बहुगुणा विवि--468 117

इंदिरा गांधी ट्राइबल विवि--236 59

केंद्रीय विश्वविद्यालय हरियाणा--225 56

आसाम यूनिवर्सिटी--432 108

तेजपुर यूनिवर्सिटी--283 71

नागालैंड यूनिवर्सिटी--253 63

त्रिपुरा यूनिवर्सिटी--278 70

मौलाना आजाद उर्दू विवि--397 99

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top