Home > देश > ईवीएम और वीवीपैट का मिलान पूरी तरह से सही निकला, यहां जानें

ईवीएम और वीवीपैट का मिलान पूरी तरह से सही निकला, यहां जानें

ईवीएम और वीवीपैट का मिलान पूरी तरह से सही निकला, यहां जानें

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में EVM विश्वसनीयता पर खरी उतरी है। चुनाव परिणाम के बाद चुनाव आयोग के आंकड़े कहते हैं कि ईवीएम और वीवीपैट का मिलान पूरी तरह से सही निकला और विपक्ष की शंका गलत साबित हुई। आपको बताते जाए कि लोकसभा चुनाव के दौरान विपक्षी दलों ने जमकर सवाल उठा रहे थे। उनकी मांग थी कि ईवीएम और वीवीपैट की ज्यादा से ज्यादा पर्चियों का मिलान किया जाए। सारे प्रदेशाें के मुख्य चुनाव अधिकारियों के अनुसार, 20625 वीवीपैट में से एक भी मशीन के मिसमैच होने की खबर नहीं मिली है।

इस साल चुनाव में 90 करोड़ मतदाताओं को नई सरकार के लिए अपना मत देना था, जिसके लिए आयोग ने कुल 22.3 लाख बैलेट यूनिट, 16.3 लाख कंट्रोल यूनिट और 17.3 लाख वीवीपैट इस्तेमाल की थी। इस बार 17.3 लाख वीवीपैट में से 20,625 वीवीपैट का ईवीएम से मिलान किया गया। जबकि पिछली बार महज 4125 वीवीपैट का ईवीएम से मिलान किया गया था।

सर्वोच्च न्यायालय ने 8 अप्रेल को चुनाव आयोग को आदेश दिया था । इसके बाद चुनाव आयोग ने हर लोकसभा सीट के कम से कम 5 पोलिंग बूथ पर ईवीएम और वीवीपैट का मिलान की व्यवस्था की थी। ईवीएम में पड़े वोटों की सही जानकारी और रिकॉर्ड के लिए वीवीपैट की व्यवस्था 2013-14 में प्रारंभ की गई थी। ईवीएम में छेड़छाड़ की संभावना को देखते हुए चेन्नई की एक एनजीओ ने ईवीएम और वीवीपैट की पर्चियों की 100 फीसदी मिलान की याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की थी जिसे कोर्ट ने निरस्त कर दिया।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top