Home > देश > शिवराज सिंह चौहान ने कहा - सदस्यता अभियान का उद्देश्य संख्या बढ़ाना नहीं अपितु देश जोड़ना है लक्ष्य

शिवराज सिंह चौहान ने कहा - सदस्यता अभियान का उद्देश्य संख्या बढ़ाना नहीं अपितु देश जोड़ना है लक्ष्य

शिवराज सिंह चौहान ने कहा -  सदस्यता अभियान का उद्देश्य संख्या बढ़ाना नहीं अपितु देश जोड़ना है लक्ष्य

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने पिछले सदस्यता अभियान और उसकी खामियों से सीख लेते हुए मिस्ड कॉल के साथ-साथ ऑनलाइन और मैनुअल फार्म भी भरवा रही है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि सदस्यता अभियान का उद्देश्य संख्या बढ़ाना नहीं बल्कि देश जोड़ना लक्ष्य है।

भाजपा सदस्यता अभियान के प्रमुख शिवराज सिंह चौहान ने 'हिन्दुस्थान समाचार' से खास बातचीत में कहा कि पिछली बार सदस्यता अभियान में कुछ त्रुटियां हुईं थीं, उसमें सुधार किया गया है। मिस्ड कॉल के साथ-साथ ऑनलाइन और मैनुअल फार्म भी भरवाया जा रहा है, ताकि पार्टी की सदस्यता लेने वाले व्यक्ति की पहचान और पते की पड़ताल की जा सके। फार्म पर नाम, पता और पिनकोड का ब्यौरा देना अनिवार्य किया गया है, इससे सदस्यता लेने वाले का पूरा ब्योरा पार्टी के पास होगा।

उन्होंने कहा कि पिछली बार सदस्यता अभियान के लिए एक मोबाइल नंबर जारी किया गया था, जिस पर मिस्ड कॉल कर के कोई भी व्यक्ति पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर सकता था। किंतु उसमें कई लोगों का पूरा विवरण नहीं मिल सका। जैसे किसी ने चलती ट्रेन, बस से मिस्ड कॉल किया तो उसका वास्तविक विवरण पार्टी को नहीं मिल सका। इसकी वजह से कुछ खामियां सामने आईं।

भाजपा सदस्यता अभियान के प्रमुख शिवराज ने कहा कि भाजपा का सदस्यता अभियान केवल अपनी सदस्य संख्या बढ़ाने के लिए नहीं है बल्कि देश बनाने के अभियान में पूरे देश की जनता को साथ जोड़ना लक्ष्य है। भाजपा सत्ता के लिए नहीं काम करती। इसके उलट जितने दल हैं, वह सत्ता के लिए काम करते हैं। भाजपा देश बनाने के लिए काम करती है। उन्होंने कहा कि एक ओर जो हारी हुई पार्टियां हैं उनके नेता इस्तीफा देकर विदेश निकल गए। क्षेत्रीय दलों के नेताओं का तो कई दिन तक अता पता ही न चला। जीत के बाद भाजपा को जश्न मनाना चाहिए था, छुट्टी मनानी चाहिए थी, किंतु भाजपा ने तय किया कि वह संगठन पर्व मनाएगी, विस्तार करेगी। जिन राज्यों में सरकार नहीं है वहां सरकार बनाएं और जहां सरकार हैं वहां और ज्यादा मजबूती से संगठन को आगे ले जाएं।

चौहान ने कहा कि हमारा उद्देश्य समाज के हर वर्ग को जोड़ना है। इसलिए सदस्यता अभियान की जब बात हुई तो हमने 'सर्वस्पर्शी भाजपा और सर्वव्यापी भाजपा' को मूलमंत्र बनाया। यानि समाज का हर वर्ग पार्टी से जुड़े। उन्होंने सर्वस्पर्शी का तात्पर्य बताते हुए कहा कि एससी, एसटी सामान्य वर्ग, अल्पसंख्यक सभी को जोड़ना। इसके साथ-साथ प्रोफेशन के आधार पर भी लोगों को जोड़ना। डॉक्टर, वकील, चार्टर्ड एकाउंटेंट, कलाकार, साहित्यकार, समाजसेवी, खिलाड़ी समेत अलग-अलग प्रतिभाओं से जुड़े लोगों को भी जोड़ना हमारा लक्ष्य है।

भाजपा उपाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के 11 करोड़ सदस्य हैं। मौजूदा सदस्यता अभियान में हमने 6 करोड़ नए सदस्य जोड़ने का लक्ष्य रखा था, किंतु अभी जो नतीजे आ रहे हैं वे उत्साहजनक हैं। हम इस लक्ष्य को बढ़ाने पर भी विचार करेंगे।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top