Home > देश > कांग्रेस नेता शशि थरूर पर आई मुसीबत, पढ़े पूरी खबर

कांग्रेस नेता शशि थरूर पर आई मुसीबत, पढ़े पूरी खबर

कांग्रेस नेता शशि थरूर पर आई मुसीबत, पढ़े पूरी खबर

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करना कांग्रेस सांसद शशि थरूर के लिए मुसीबत बन गया है। पहले कांग्रेस सांसदों ने थरूर की आलोचना की अब केरल कांग्रेस ने उनसे जवाब मांगा है। आपको बता दें कि थरूर ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सही चीजों को लेकर प्रशंसा की जानी चाहिए। पार्टी के नेताओं की आलोचनाओं से बेपरवाह थरूर ने कहा कि उनके रुख में कुछ भी गलत नहीं है।

केरल कांग्रेस के अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने कहा कि हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा के लिए शशि थरूर से स्पष्टीकरण मांगेंगे। उनके स्पष्टीकरण के आधार पर भविष्य की कार्रवाई का निर्णय लिया जाएगा।

विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्नितला ने कहा था कि मोदी सरकार की 'गलतियों को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने कहा कि थरूर का बयान दुर्भाग्यपूर्ण है और वह उनसे बात करेंगे। वे तिरुवनंतपुरम के सांसद थरूर के इस विचार पर प्रतिक्रिया दे रहे थे कि सही चीज करने पर प्रधानमंत्री की सराहना करने से विपक्ष की आलोचना की साख बनेगी।

थरूर और उनके सहयोगी अभिषेक मनु सिंघवी ने पिछले हफ्ते पार्टी नेता जयराम रमेश का समर्थन किया था जिन्होंने कहा है कि मोदी के काम को नहीं स्वीकारने और उन्हें हर समय उन्हें 'दानव की तरह पेश करने से कोई फायदा नहीं होने वाला है।

थरूर के रूख पर अलप्पुझा के हरिपद में संवाददाताओं के प्रश्नों के उत्तर में चेन्नितला ने कहा कि केंद्र ऐसे निर्णय ले रहा है जो लोगों को अस्वीकार्य हैं और किसी एक अच्छे काम के लिए उनका महिमामंडन करने की जरूरत नहीं है। रामचंद्रन ने तिरुवनंतपुरम में पत्रकारों से कहा कि थरूर ने पांच सालों तक भाजपा नीत राजग सरकार का खुलकर विरोध किया है।

उन्होंने कहा, '' मैं नहीं जानता कि पिछले एक हफ्ते में क्या बदलाव आया है। मुझे नहीं मालूम कि वह अब कैसे मोदी सरकार का समर्थन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वह इस मामले को लेकर उनसे बातचीत करेंगे।

उधर, थरूर ने रविवार को एक मलयालम टीवी चैनल पर कहा, '' जयराम रमेश और सिंघवी ने जो कुछ कहा है, वह गलत नहीं है। यदि मोदी ने कुछ अच्छा किया है तो हमें उसे स्वीकार करना चाहिए। अन्यथा हम लोगों के बीच अपनी साख गंवा बैठेंगे। यदि जरूरत हो हमें उनकी कड़ी आलोचना भी करनी चाहिए।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top