Top
Latest News
Home > देश > एक देश एक चुनाव के विचार को मिला नवीन पटनायक का समर्थन

'एक देश एक चुनाव' के विचार को मिला नवीन पटनायक का समर्थन

एक देश एक चुनाव के विचार को मिला नवीन पटनायक का समर्थन

नई दिल्ली। पीएम मोदी के प्रस्ताव 'एक देश एक चुनाव' को ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजद प्रमुख नवीन पटनायक का समर्थन मिला है। सर्वदलीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कहा कि हमारी पार्टी एक राष्ट्र एक चुनाव के विचार का समर्थऩ करती है। बीजू जनता दल के मुखिया और ओडिशा के मुख्यमंत्री के नवीन पटनायक ने बुधवार को कहा कि वह देश में लोकसभा एवं विधानसभा चुनाव एकसाथ कराए जाने का समर्थन करते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 'एक राष्ट्र, एक चुनाव पर विषय पर बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में शामिल होने के बाद पटनायक ने कहा कि उनकी पार्टी इस विचार का समर्थन करती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने संविधान की प्रस्तावना में 'शांति एवं 'अहिंसा शब्द जोड़ने का सुझाव दिया है। उल्लेखनीय है कि मोदी ने लोकसभा और सभी विधानसभाओं के चुनाव एक साथ कराने तथा महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के आयोजन सहित अन्य मुद्दों पर सर्वदलीय बैठक बुलायी थी।

बता दें कि लोकसभा चुनाव के साथ ही सभी राज्यों की विधानसभाओं के चुनाव कराने सहित अन्य मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा संसद भवन परिसर में बुधवार को बैठक बुलायी गयी। बैठक में कांग्रेस, समाजवादी पार्टी और बहुजन समाजवादी पार्टी ने हिस्सा नहीं लिया। संसद में प्रतिनिधित्व रखने वाले सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों को बैठक में बुलाया गया था। दोपहर बाद शुरू हुयी बैठक में राजग के घटक दल शिवसेना के अध्यक्ष राज ठाकरे पार्टी का स्थापना दिवस होने के कारण शामिल नहीं हो सके।

बैठक में मोदी के अलावा गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, जदयू के अध्यक्ष नीतीश कुमार, आरपीआई अध्यक्ष रामदास अठावले और अपना दल अध्यक्ष आशीष पटेल भी शामिल हुये।

गैर राजग दलों में बीजद के अध्यक्ष नवीन पटनायक, एआईएमाईएम के अध्यक्ष असदउद्दीन ओवैसी, पीपीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती, नेशनल कान्फ्रेंस अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला, माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी, भाकपा के महासचिव एस सुधाकर रेड्डी, राकांपा अध्यक्ष शरद पवार और वाईएसआर कांग्रेस के अध्यक्ष जगन मोहन रेड्डी भी शामिल हुये।

इससे पहले मुद्दों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बुधवार को आहूत सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस के अलावा विपक्ष के प्रमुख नेताओं में बसपा अध्यक्ष मायावती और तृणमूल कांग्रेस अध्यक्ष ममता बनर्जी ने हिस्सा नहीं लिया। हालांकि वाम दलों की ओर से माकपा के महासचिव सीताराम येचुरी एवं अन्य नेता इसमें भाग ले रहे हैं।

सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस के शामिल नहीं होने की पुष्टि करते हुए पार्टी के एक सूत्र ने 'पीटीआई-भाषा को बताया कि कांग्रेस इस बैठक में शामिल नहीं होगी क्योंकि एक राष्ट्र, एक चुनाव के विचार से वह सहमत नहीं है। सूत्रों के अनुसार तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बैठक में भाग नहीं ले रहे। हालांकि उन्होंने अपने प्रतिनिधियों को बैठक में भेजा है। द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन भी बैठक में शामिल नहीं हुए। समझा जाता है कि तेदेपा अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू के भी इस बैठक में हिस्सा नहीं लेने की संभावना है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top