Home > देश > बुलंदशहर हिंसा की न्यायिक जांच करवाए सरकार : सिब्बल

बुलंदशहर हिंसा की न्यायिक जांच करवाए सरकार : सिब्बल

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा बदलाव के नाम पर बदला ले रही है मोदी सरकार

बुलंदशहर हिंसा की न्यायिक जांच करवाए सरकार : सिब्बल

नई दिल्ली/स्वदेश वेब डेस्क। उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में सोमवार को गोकशी पर हिंसा में मारे गए पुलिसकर्मी के मामले पर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जवाब मांगा है। कांग्रेस प्रवक्ता कपिल सिब्बल ने सवाल उठाया है कि बदलाव के नाम पर सत्ता में आने वाली भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार का यही बदलाव है, जो सोमवार को बुलंदशहर में हुआ।

कांग्रेस मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में सिब्बल ने कहा कि 2014 में सत्ता में आने से पहले नरेंद्र मोदी जिस बदलाव की बात करते थे, क्या बुलंदशहर जैसी घटनाएं उसी बदलाव का प्रतीक हैं? उन्होंने कहा कि बदलाव के नाम पर प्रधानमंत्री मोदी बदला ले रहे हैं। बुलंदशहर में हिंसा को लेकर तीखा प्रहार करते हुए सिब्बल ने घटना की न्यायिक जांच की मांग की है। समाचार पत्रों में छपी रिपोर्टां के हवाले से सिब्बल ने कहा उत्त्र प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान लग रहे हैं। केंद्र व राज्य की योगी सरकार का अपराध पर नियंत्रण नहीं है। आंकड़ों को गिनाते हुए सिब्बल ने कहा कि 2017 से अब तक प्रदेश के 24 जिलों में 63 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि 400 से ज्यादा लोग जख्मी हुए हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सिब्बल ने मंदिर निर्माण, राजग सरकार की विदेश नीति से लेकर पांच राज्यों के चुनावों पर विस्तार से चर्चा करते हुए दावा किया कि 11 दिसंबर को परिणाम आने दीजिए कांग्रेस पांचों राज्यों में सरकार बनाएगी। उन्होंने मंदिर निर्माण में खुद पर न्यायिक सुनवाई को टलवाने के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि जनवरी 2016 के बाद वे सुनवाई में हिसा लेने गए ही नहीं फिर मुझ पर नाहक ही आरोप लगाए जा रहे हैं। इसके लिए उन्होंने बार-बार प्रधानमंत्री पर निशाना साधा और तंज कसा। सिब्बल ने कहा कि मुझ पर आरोप लगाने वाले पहले इतिहास के तथ्यों को गहराई से जानें। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र की हिफाजत करना केवल विपक्ष का ही काम नहीं है बल्कि सत्ता पक्ष का भी दायित्व है।

Tags:    

Swadesh News ( 5164 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top