Home > देश > कांग्रेस अर्द्ध सैनिक बलों को जान गंवाने पर देगी शहीद का दर्जा

कांग्रेस अर्द्ध सैनिक बलों को जान गंवाने पर देगी शहीद का दर्जा

कांग्रेस अर्द्ध सैनिक बलों को जान गंवाने पर देगी शहीद का दर्जा

चंबी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुरुवार को शाहपुर के चंबी में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि देश की रक्षा में जवान गंवाने वाले सभी अर्द्ध सैनिक बलों सीआरपीएफ, बीएसएफ, आईटीबीपी और सीआईएसएफ के जवानों को कांग्रेस के सत्ता में आने पर शहीद का दर्जा दिया जायेगा। राहुल ने अपनी रैली की शुरुआत पुलमावा में शहीद हुए कांगडा के तिलक राज को याद करके की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस इस मामले में सैनिकों के साथ भेदभाव नहीं करेगी।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान को लेकर कांग्रेस सहित सारा विपक्ष सरकार और वायुसेना के साथ खड़ा रहा लेकिन प्रधानमंत्री इस मामले पर राजनीति कर रहे हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने ऐलान किया कि लोकसभा चुनावों में कांग्रेस सत्ता में आने के बाद जीएसटी को बदलेगी। उन्होंने कहा कि जीएसीटी में पांच करों के स्थान पर सिर्फ एक ही कर लगाया जाएगा। उन्होंने आरोप लगाया कि जीएसटी से सिर्फ बड़े उद्योगपतियों और आयकर विभाग को ही लाभ हुआ है, जबकि छोट व्यापरियों की स्थिति खराब हुई है।

राहुल गांधी ने रैली में यह भी ऐलान किया कि कांग्रेस सत्ता में आने पर गरीब आदमी को कम से कम आमदनी की गारंटी देने वाली है। उन्होंने कहा कि अभी तक यह किसी भी देश में नहीं हुआ है और कांग्रेस करके दिखाएगी। यह पैसा सीधा गरीब के खाते में जाएगा। राहुन ने कहा कि कांग्रेस हिमाचल की सभी चारों सीटों पर लोकसभा में जीत दर्ज करेगी।

राहुल गांधी ने केन्द्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस की सरकारों ने पंजाब, राज्यस्थान, छतीसगढ़, मध्यप्रदेश और कर्नाटक में किसानों के कर्ज माफ किए हैं। वहीं मोदी ने सिर्फ देश के बड़े 15 उद्योगपतियों का साढ़े तीन करोड़ से अधिक का कर्ज माफ किया है। राहुल ने केन्द्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि जब बड़े उद्योगपतियों का कर्ज बढ़ जाता है तो उसे एनपीए कहा जाता है। वहीं किसान अगर कर्ज नहीं दे पातो उसे डिफाल्टर कहा जाता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सत्ता में आने पर किसानों का कर्ज माफ करेगी। राहुल ने कहा कि देश में बीते 40 सालों के दौरान आज सबसे अधिक बेरोजगारी है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 7125 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top