Home > देश > #CWC Meeting : कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए बनाई रणनीति

#CWC Meeting : कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए बनाई रणनीति

#CWC Meeting : कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव के लिए बनाई रणनीति

अहमदाबाद। कांग्रेस की सर्वोच्च नीति निर्धारण इकाई कांग्रेस कार्य समिति की मंगलवार को बैठक हुई जिसमें लोकसभा चुनाव के लिए रणनीति पर चर्चा के साथ ही यह संकल्प लिया गया कि भाजपा एवं आरएसएस की 'फासीवाद और घृणा की विचारधारा को पराजित किया जाएगा।'

लोकसभा चुनावों से पहले चुनाव की रणनीति पर विचार-विमर्श करने और राष्ट्रीय सुरक्षा एवं गठबंधन जैसे अहम मुद्दों पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य में सीडब्ल्यूसी की यह महत्वपूर्ण बैठक हुई।

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मतदान की तारीखों का ऐलान हो चुका है। इसके साथ ही सभी राजनीतिक दलों ने कमर कस ली है। प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस एक बार फिर सत्ता में आने के लिए कोई कसर नहीं छोडना चाहता है। इसी क्रम में पार्टी आज (मंगलवार को) चुनावी रणनीति के लिए जुटी है। यहां कांग्रेस कार्य समिति (सीडब्ल्यूसी) की बैठक जारी है। कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि सरकार की खराब नीतियों की वजह से अर्थव्यवस्था गिरी है। साथ ही मनमोहन सिंह ने कहा कि आज लोगों को यूपीए सरकार की उपलब्धियां बताने की जरूरत है। उन्होंने आगे कहा कि केंद्र सरकार आज झूठा प्रचार कर रही है। वहीं यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पीएम मोदी पर पीडि़त बनने की कोशिश करने का आरोप लगाया। वहीं सोनिया गांधी ने कहा, राष्ट्र हित से समझौता करके राजनीति हो रही है। मोदी पीडि़त बनने की कोशिश करते हैं जबकि असली पीडि़त जनता है।

बता दे, गुजरात में 58 साल बाद सीडब्ल्यूसी की मीटिंग हो रही है। इससे पहले 1961 में गुजरात के भावनगर में सीडब्ल्यूसी की बैठक हुई थी। कांग्रेस के इतिहास में यह पहला मौका हैं, जब गांधी-नेहरू परिवार के तीन सदस्य सीडब्ल्यूसी में शामिल हो रहे हैं। इसमें यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा भी शामिल हैं। यूपी ईस्ट की नव निर्वाचित प्रभारी महासचिव के तौर पर काम संभालने वाली प्रियंका की यह पहली सीडब्ल्यूसी हैं।

आम चुनाव से ऐन पहले गुजरात में होने वाली यह सीडब्ल्यूसी काफी अहम मानी जा रही है, क्योंकि इसमें जहां एक ओर पार्टी चुनावों के मद्देनजर अपनी रणनीति तय करेगी, वहीं कांग्रेस मोदी और शाह के घर में आगामी चुनाव की दिशा को लेकर स्पष्ट संकेत देने की कोशिश करेगी। वहीं दूसरी और पाटीदार नेता हार्दिक पटेल भी कांग्रेस का दामन थामने जा रहे हैं।

हार्दिक ने कुछ दिन पहले ट्विटर पर यह जानकारी दी थी। राजद्रोह के आरोपों से घिरे और जमानत पर चल रहे हार्दिक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के गढ़ गुजरात से चुनाव लडने की घोषणा की थी।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8868 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top