Top
Home > देश > नागरिकता संशोधन बिल संविधान की आत्मा को छलनी करने वाला विधेयक : प्रियंका गांधी

नागरिकता संशोधन बिल संविधान की आत्मा को छलनी करने वाला विधेयक : प्रियंका गांधी

नागरिकता संशोधन बिल संविधान की आत्मा को छलनी करने वाला विधेयक : प्रियंका गांधी

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने नागरिकता संशोधन विधेयक (कैब) के संसद में पास होने पर कहा कि 'कैब' जैसा भेदभावपूर्ण व संविधान की आत्मा को छलनी करने वाला विधेयक भाजपा तब लाई है जब महात्मा गांधी की जयंती के 150वें वर्ष का पार्टी ढिंढोरा पीट रही है।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के कैब विधेयक के संसद में पारित होने पर दिए वक्तव्य को साझा करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि भाजपा के विभाजनकारी मंसूबों के खिलाफ कांग्रेस पूरी मजबूती से लड़ेगी।

महाचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर कहा, "भाजपा जिस समय महात्मा गांधी की जयंती के 150 वर्ष पूरा होने का ढिंढोरा पीट रही है, उसी दौरान कैब जैसा भेदभावपूर्ण व संविधान की आत्मा को छलनी करने वाला बिल ला रही है। भाजपा के विभाजनकारी मंसूबों के खिलाफ कांग्रेस पूरी मजबूती से लड़ेगी।"

इससे पहले राहुल गांधी ने बुधवार को कहा था कि कैब मोदी-शाह सरकार द्वारा नॉर्थ ईस्ट की जातीय पहचान को समाप्त करने का एक प्रयास है। यह उत्तर पूर्व, उनके जीवन के तरीके और भारत के विचार पर एक आपराधिक हमला है। वह पूर्वोत्तर के लोगों और उनकी सेवा में तत्पर हैं।

वहीं राहुल के ट्वीट का जवाब देते हुए केन्द्रीय खेल मंत्री किरण रिजिजू ने ट्वीट किया कि राहुल गांधी सही नहीं है। सभी शरणार्थी हमारे संरक्षित क्षेत्रों में आपकी कांग्रेस पार्टी द्वारा कानूनों का उल्लंघन करके बसाए गए थे। सभी अवैध प्रवासियों ने कांग्रेस की नीति के कारण पूर्वोत्तर में प्रवेश किया। आपके ब्लंडर को भाजपा सरकार ने सही किया हैं। अब, शरणार्थी स्थानीय नहीं बन सकते।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Next Story
Share it
Top