Home > देश > चिन्मयानंद मामला : SC ने कहा - लड़की नहीं जाना चाहती यूपी, पुलिस दे सुरक्षा

चिन्मयानंद मामला : SC ने कहा - लड़की नहीं जाना चाहती यूपी, पुलिस दे सुरक्षा

चिन्मयानंद मामला : SC ने कहा - लड़की नहीं जाना चाहती यूपी, पुलिस दे सुरक्षा

नई दिल्ली। चिन्मयानंद मामले में बीजेपी नेता चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाले लॉ की छात्रा से सुप्रीम कोर्ट के जजों के एक पैनल ने चेंबर में मुलाकात की है। कोर्ट ने कहा कि हमने लड़की से बात की है। उसने कहा है कि वह तब तक यूपी वापस नहीं जाना चाहती, जब तक वह अपने माता-पिता से यहां नहीं मिलती।

माता-पिता मिलने के बाद वह आगे की कार्रवाई के बारे में फैसला लेगी। इस दौरान कोर्ट ने कहा कि दिल्ली पुलिस लड़की की सुरक्षा का इंतजाम करे। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि रजिस्ट्रार ज्यूडिशियल लड़की को उसके माता-पिता के साथ मिलने में तालमेल बिठाएगा। वह अन्य लोगों से तब तक नहीं मिलेगी, जब तक वह उनसे नहीं मिल लेती। लड़की को उसके माता-पिता से बातचीत करने के लिए लैंडलाइन का उपयोग करने की अनुमति दी जाएगी।

दरअसल, यूपी सरकार ने शीर्ष अदालत को जानकारी दी कि युवती राजस्थान में पाई गई है। बता दें कि उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में कानून की पढ़ाई कर रही छात्रा पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानंद के खिलाफ एक वीडियो के जरिए शोषण का आरोप लगाए जाने के बाद गुमशुदा हो गई थी। इस मामले पर पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया। शीर्ष अदालत ने वकीलों के एक समूह द्वारा दायर याचिका के बाद ऐसा करने का फैसला किया।

उत्तर प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को न्यायमूर्ति आर भानुमती और ए एस बोपन्ना की पीठ को बताया कि युवती राजस्थान में पाई गई है और उसे उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर ले जाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने बताया कि लड़की पुलिस दल के साथ शाहजहांपुर आ रही है, अभी वह लोग फतेहपुर सीकरी पहुंचे हैं। इस पर शीर्ष अदालत ने उत्तर प्रदेश सरकार से कहा कि लड़की को आज ही अदालत में पेश करे।

बता दें कि भाजपा नेता चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली शाहजहांपुर के एस.एस. लॉ कॉलेज की लापता छात्रा राजस्थान के जयपुर में 6 दिन बाद मिली। पुलिस ने बताया कि छात्रा अपने एक दोस्त के साथ मिली है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर जानकारी दी, "शाहजहांपुर मामले में लापता हुई छात्रा अपने दोस्त के साथ राजस्थान में शाहजहांपुर पुलिस को मिली है। अब मामले को लेकर जरूरी कानूनी कार्रवाई की जा रही है।"

राज्य के पुलिस प्रमुख ओ.पी सिंह ने मीडिया से कहा कि चिन्मयानंद पर आरोप लगाने वाली लॉ की छात्रा शुक्रवार सुबह मिली और वह ठीक है। उन्होंने बताया कि पुलिस अब लड़की को शाहजहांपुर ले जा रही है, पिछले कुछ दिनों से पुलिस की टीमें इस संबंध में काम कर रही थीं।

लापता होने से एक दिन पहले भाजपा नेता पर लगाया था आरोप...

चिन्मयानंद के ट्रस्ट द्वारा संचालित एक कॉलेज में पढ़ने वाली छात्रा पिछले शनिवार से गायब थी। इससे एक दिन पहले छात्रा ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमें उसने आरोप लगाया गया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद उसे परेशान कर रहा था और उसे जान से मारने की धमकी दे रहा था। उसने वीडियो में चिन्मयानंद का नाम नहीं लिया, लेकिन "संत समुदाय के एक वरिष्ठ नेता" का जरूर बोला था।

बता दें कि पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को 2011 में भी इसी तरह के आरोपों का सामना करना पड़ा था, जब उनके आश्रम में रहने वाली एक महिला के साथ बलात्कार करने के आरोप में उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

छात्रा शाहजहांपुर के एक महाविद्यालय में एलएलएम की छात्रा है। वीडियो वायरल होने के बाद छात्रा के पिता ने कोतवाली शाहजहांपुर में स्वामी चिन्मयानंद पर आईपीसी की धारा 364 व 506 के तहत केस दर्ज कराया था। वहीं, स्वामी चिन्मयानंद के वकील ने भी अज्ञात पर पांच करोड़ की रंगदारी मांगने व ब्लैक मेल करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था। वकील ने कहा था कि, स्वामी चिन्मयानंद को साजिश के तहत बदनाम किया जा रहा है। वे निर्दोष हैं। हालांकि, स्वामी चिन्मयांनद का इस विषय में कोई बयान नहीं आया था।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top