Home > देश > अवमानना मामला : हलफनामे में राहुल ने गलती मानी

अवमानना मामला : हलफनामे में राहुल ने गलती मानी

अवमानना मामला : हलफनामे में राहुल ने गलती मानी

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चौकीदार चोर है के बयान पर सुप्रीम कोर्ट की ओर से जारी अवमानना नोटिस के जवाब में अपना हलफनामा दायर किया। राहुल गांधी ने अपने हलफनामे में अपनी गलती स्वीकार करते हुए सुप्रीम कोर्ट के आदेश को चुनाव प्रचार से जोड़ने पर खेद जताया है। हलफनामे में राहुल गांधी ने मीनाक्षी लेखी की याचिका को खारिज करने की मांग की है। इस मामले पर कल यानि 30 अप्रैल को सुनवाई होगी।

पिछले 23 अप्रैल कोसुप्रीम कोर्ट ने राहुल गांधी को नोटिस जारी किया था। कोर्ट ने राहुल गांधी को 30 अप्रैल को कोर्ट में पेशी से छूट दे दी है। पिछले 15 अप्रैल को कोर्ट ने राहुल गांधी से सफाई मांगी थी।

सुनवाई के दौरान मीनाक्षी लेखी की ओर से वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी ने कहा था कि राहुल गांधी ने भले ही ये कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ बयान सुप्रीम कोर्ट के फैसले को पढ़े बिना दे दिया था लेकिन उन्होंने चौकीदार चोर है के बयान पर कोई माफी नहीं मांगी है। राहुल गांधी की ओर से वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा था कि राहुल गांधी ने ईमानदारी से अपनी गलती स्वीकार की है और उन्होंने इस पर खेद प्रकट किया है। सिंघवी ने राहुल गांधी के खिलाफ केस खत्म करने की मांग की थी और कहा था कि इस केस का विरोधी चुनाव में लाभ लेने की कोशिश कर रहे हैं।

पिछले 22 अप्रैल को राहुल गांधी ने अवमानना केस पर सुप्रीम कोर्ट में अपना जवाब दाखिल किया था। राहुल गांधी ने आदेश गलत तरीके से पेश करने के लिए खेद जताया है। राहुल ने राफेल पर आदेश के बाद कहा था कि चौकीदार चोर है। अब उन्होंने अपने हलफनामे में कहा है कि बयान चुनाव प्रचार के गर्म माहौल में दिया था। उन्होंने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के हवाले से कोई ऐसी बात नहीं बोलूंगा, जो सुप्रीम कोर्ट ने नहीं कही है। याचिका बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने दायर की है। मीनाक्षी लेखी की तरफ से कहा गया कि ये कोर्ट की अवमानना है। राहुल गांधी ने कोर्ट के फैसले की गलत व्याख्या की है।

Tags:    

Swadesh Digital ( 8810 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top