Latest News
Home > देश > वायु सेना ने आतंकी हमलों के खतरे को देखते हुए की चाक चौबंद व्यवस्था

वायु सेना ने आतंकी हमलों के खतरे को देखते हुए की चाक चौबंद व्यवस्था

-दिल्ली समेत 30 बड़े शहरों में खुफिया अलर्ट, निशाने पर डोभाल और एयरबेस

वायु सेना ने आतंकी हमलों के खतरे को देखते हुए की चाक चौबंद व्यवस्था

नई दिल्ली। देश पर फिर एक बार आतंकी हमले का बड़ा खतरा मंडरा रहा है। जैश-ए-मोहम्मद ने राजधानी दिल्ली समेत 30 बड़े शहरों, वायु सेना के ठिकानों और चार बड़े एयरपोर्ट समेत कई अहम ठिकानों को निशाना बनाने की धमकी दी है। खुफिया एजेंसियों ने इस तरह के आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया है।

वायु सेना ने आतंकी हमलों के खतरे को देखते हुए जम्‍मू-कश्‍मीर के एयरबेसों पर अलर्ट जारी किया है। खुफिया एजेंसियों की मानें तो आतंकियों के निशाने पर देश के 30 बड़े शहर हैं। आतंकियों की ओर से जम्मू, पठानकोट, अमृतसर, जयपुर, गांधीनगर, कानपुर, लखनऊ में हमले की धमकी दी गई है। दरअसल खुफिया सूचनाओं की मानें तो अलग अलग दस्ते में आतंकी घुसपैठ कर चुके हैं, जिनके निशानों पर जम्मू, पठानकोट, श्रीनगर तथा लेह के हवाई अड्डों के अतिरिक्त सैन्य ठिकाने भी हैं। आतंकियों की घुसपैठ का दावा पुलिस महानिदेशक से लेकर सेनाध्यक्ष तक कर रहे हैं।

खुफिया एजेंसियों की ओर से जारी अलर्ट के अनुसार आतंकियों के निशाने पर देश के राष्‍ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल भी हैं। सूत्रों ने बताया कि जैश-ए-मोहम्‍मद ने इस काम के लिए आठ से 10 खूंखार आतंकियों को जिम्‍मेदारी सौंपी है। ये आतंकी खुद को धमाके से उड़ाकर भयानक फिदायीन हमलों को अंजाम दे सकते हैं। सूत्रों की मानें तो आतंकी अनुच्‍छेद-370 को हटाने का बदला लेने के लिए ऐसे आत्‍मघाती हमलों की फिराक में हैं। आतंकी निशाने पर नामचीन नेताओं के साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल भी हैं।

सूत्रों ने बताया कि खुफिया एजेंसियों ने राज्यों के पुलिस महकमों से उक्‍त अलर्ट शेयर किया है। खुफिया एजेंसियों के अलर्ट को देखते हुए राज्‍य सरकारों ने पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करके सुरक्षा हालात का जायजा लेना शुरू किया है। राज्‍यों ने अपनी सीमाओं पर चौकसी तेज करते हुए सुरक्षा बंदोबस्‍तों को मजबूत किया है। पुलिस अधिकारियों से तीर्थस्‍थलों के अलावा भीड़ भरी जगहों पर कड़ी सतर्कता बरतने के निर्देश जारी किए गए हैं।

Tags:    

Swadesh Digital ( 0 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top