Home > देश > 2050 तक बढ़ जाएगी कई देशों में हिंदुओं की आबादी

2050 तक बढ़ जाएगी कई देशों में हिंदुओं की आबादी

अमेरिका की प्यू रिसर्च सेंटर की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि दुनिया के कई देशों में हिन्दू धर्म से जुड़े लोगों की आबादी तेजी से बढ़ रही है

2050 तक बढ़ जाएगी कई देशों में हिंदुओं की आबादी

नई दिल्ली | अमेरिका की प्यू रिसर्च सेंटर की रिपोर्ट में खुलासा हुआ है कि दुनिया के कई देशों में हिन्दू धर्म से जुड़े लोगों की आबादी तेजी से बढ़ रही है और 2050 तक पकिस्तान, बांग्लादेश समेत कई देशों में हिंदुओं की आबादी काफी बढ़ जायेगी। बता दें कि सनातन धर्म जिसे वर्तमान में हिन्दू धर्म कहा जा रहा है, इस दुनिया के सबसे पुराने धर्मों में से है। पूरी दुनिया में 100 करोड़ से अधिक लोग इस धर्म को मानते हैं। इस धर्म की शुरुआत भारत देश से ही हुई थी और अब इसे मानने वाले पूरी दुनिया में हैं। अमेरिका, कनाडा, इंग्लैंड समेत बहुत से एशियाई देशों में हिंदू धर्म को मानने वाले लोग बहुतायत में हैं।

भारत में हिंदू धर्म को मानने वाले लोगों की जनसंख्या 80 फीसदी है। पूरी दुनिया की हिंदू आबादी में भारत का योगदान 94.3 फीसदी है। साल 2010 में भारत में हिन्दुओं की संख्या 97.3 करोड़ थी जो साल 2050 तक बढ़कर 129.7 करोड़ हो जाएगी। भारत और पाकिस्तान की जड़ें जुड़ी हुई हैं। 1947 से पहले बहुत से हिंदू उस हिस्से में रहते थे जो अब पाकिस्तान है। फिलहाल पाकिस्तान में हिन्दुओं की कुल संख्या 33 लाख के लगभग है। इस्लाम के बाद यह पाकिस्तान में माना जाने वाला दूसरा धर्म है। बीते 50 सालों में हिन्दुओं की संख्या में यहां बहुत कमी आई है। प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार 2050 तक यहां हिन्दुओं की संख्या बढ़कर 56 लाख के आसपास हो जाएगी।

पाकिस्तान की ही तरह बांग्लादेश भी भारत का ही हिस्सा था। पश्चिम बंगाल से लगा हुआ यह देश मुख्य रूप से एक इस्लामिक देश है। यहां हिंदू धर्म इस्लाम के बाद दूसरा सबसे बड़ा धर्म है। यहां करीब 1 करोड़ 20 लाख हिंदू रहते हैं। साल 1901 में इस हिस्से में हिन्दुओं की संख्या देश की कुल जनसंख्या का 33 फीसदी थी, लेकिन बंटवारे के बाद से यह संख्या कम होती चली गई। हालांकि प्यू रिसर्च सेंटर के हिसाब से 2050 में ये आबादी बढ़कर 1 करोड़ 45 लाख के करीब हो जाएगी।

बता दें कि हिन्दुओं की आबादी के मामले में भारत के बाद नेपाल पूरी दुनिया में दूसरे नंबर पर है। 2010 में यहां हिन्दुओं की संख्या 2 करोड़ 45 लाख के करीब थी। प्यू रिसर्च सेंटर के अनुसार 2050 तक इस आबादी में 36.6 फीसदी की बढ़ोतरी होगी और यह जनसंख्या 3 करोड़ 81 लाख के करीब पहुंच जाएगी। इसी तरह दुनिया में हिंदू आबादी के मामले में इंडोनेशिया चौथे नंबर पर है। इस देश में करीब 40 लाख हिंदू रहते हैं। साल 2050 तक इस देश में हिन्दुओं की संख्या बढ़कर 41 लाख के ऊपर हो जाएगी।


Swadesh Digital ( 10698 )

स्वदेश वेब डेस्क www.swadeshnews.in


Share it
Top