Home > Archived > दुष्कर्म मामले को लेकर आसाराम पर फैसला कल

दुष्कर्म मामले को लेकर आसाराम पर फैसला कल

दुष्कर्म मामले को लेकर आसाराम पर फैसला कल

जोधपुर। नाबालिग से दुष्कर्म के एक मामले में आरोपी आसाराम बापू पर बुधवार को जोधपुर की एक अदालत अपना फैसला सुनाएगी। इसे लेकर पुलिस सतर्क हो गई है और सुरक्षा के तगड़े इंतजाम कर रही है। बता दें, कि रामरहीम के फैसले के बाद उनके समर्थकों ने जमकर उपद्रव किया था जिसे सुलझाने में प्रशासन को खासी समस्या हुई थी। पुलिस इस बार भी ऐसी आशंका को देखते दिल्ली से लेकर जोधपुर तक सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता बना रही है। हालांकि, अगर आसाराम इस मामले में अदालत से बरी भी हो जाते हैं तो भी वह जेल से रिहा नहीं हो पाएंगे क्योंकि उनके खिलाफ गुजरात में भी एक बलात्कार का मामला चल रहा है। जोधपुर के पुलिस आयुक्त अशोक राठौर ने बताया कि फैसले के दिन जोधपुर में बड़ी संख्या में समर्थक जुट सकते हैं। ऐसे में उपद्रव की भी आशंका है। इसलिए जोधपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि पड़ोसी राज्यों से भी सुरक्षा में सहयोग मांगी गई है।


पुलिस अधिकारियों के मुताबिक फैसले के दिन किसी तरह की अव्यवस्था न फैले इसके लिए दिल्ली समेत राजस्थान तक दोनों राज्य की सरकारों ने सुरक्षा के इंतेजाम कर लिए हैं। पूरी दिल्ली में 144 लागू कर दिया गया है। वहीं जोधपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है। कहीं पर लोगों की अधिक संख्या में जमा भीड़ दिखने पर त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

बता दें, कि यूपी के शाहजहांपुर की एक 16 वर्षीय नाबालिग लड़की द्वारा कथित तौर पर आसाराम बापू पर जोधपुर के बाहरी इलाके में स्थित अपने आश्रम में यौन उत्पीड़न का आरोप लगाए गए थे। इस मामले को लेकर दिल्ली के कमला मार्केट थाने में अपराध दर्ज कर प्रकरण को जोधपुर स्थानांतरित कर दिया गया था। जिसके बाद जोधपुर पुलिस ने 31 अगस्त 2013 को आसाराम को गिरफ्तार किया था और तब से वह जोधपुर सेंट्रल जेल में बंद हैं।

Share it
Top