Home > Archived > तिली फैक्ट्रियों की जांच करने पहुंचे उपायुक्त, मची अफरा-तफरी

तिली फैक्ट्रियों की जांच करने पहुंचे उपायुक्त, मची अफरा-तफरी

तिली फैक्ट्रियों की जांच करने पहुंचे उपायुक्त, मची अफरा-तफरी

कई तिल्ली फैक्ट्री संचालक ताला लगाकर भागे

ग्वालियर, न.सं.। बीते रोज ग्वालियर दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में 2.52 करोड़ की लागत से काला सैय्यद पुल से बण्डा पुल व लोहागढ़ होते हुए स्वर्णरेखा तक और उसके दोनों ओर छह मीटर चौड़ाई की 900 मीटर लम्बे सीसी सड़क मार्ग के भूमिपूजन कार्यक्रम के दौरान नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री नारायण सिंह कुशवाह से स्थानीय लोगों ने समाधिया कॉलोनी के आसपास संचालित तिली फैक्ट्रियों से गंदा पानी आने की शिकायत की थी। इसके बाद निगमायुक्त विनोद शर्मा के निर्देश पर उपायुक्त सुशील कटारे ने सोमवार को वार्ड 38 स्थित तिली फैक्ट्रियों का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण की खबर मिलते ही कुछ तिली फैक्ट्री संचालक अपनी फैक्ट्रियों के बाहर ताला लगाकर भाग निकले। सोमवार को निगम उपायुक्त सुशील कटारे एक-एक कर तीन फैक्ट्रियों में पहुंचे, जहां पर एक फैक्ट्री में बह रहे कैमिकल युक्त गंदे पानी की गुणवत्ता खराब निकली। बताया गया है उपायुक्त जल्द ही फैक्ट्री संचालक पर कार्रवाई कर सकते हैं।

कई बार हो चुकी है कार्रवाई
बताया गया है कि तिली फैक्ट्री कारोबारियों पर कई बार कार्रवाई की जा चुकी है, लेकिन उसके बाद भी तिली फैक्ट्री के संचालक अपनी मनमानी से बाज नहीं आ रहे हैं, जिसके चलते स्थानीय लोग कैमिकल युक्त पानी पीने को मजबूर हो रहे हैं।

Share it
Top