Home > Archived > फर्जी एनकाउन्टर: सपाईयों ने दिया धरना,परिजन सीबीआई जांच के लिए अड़े

फर्जी एनकाउन्टर: सपाईयों ने दिया धरना,परिजन सीबीआई जांच के लिए अड़े

गौतमबुद्ध नगर। जनपद में नोएडा के सेक्टर-122 थाना क्षेत्र में युवक जितेन्द्र को दरोगा विजय दर्शन द्वारा गोली मारे जाने के मामले में रविवार को सपाईयों ने फोर्टिस अस्पताल परिसर में धरना दिया। उन्होंने प्रदेश सरकार से पूरे थाने को निलम्बित करने की मांग की वहीं घायल युवक का परिवार मामले की सीबीआई जांच चाहता है।

घायल जितेन्द्र का हालचाल लेने के लिए समाजवादी पार्टी की प्रवक्ता पंखुड़ी पाठक सहित अतुल प्रधान फोर्टिस अस्पताल पहुंचे। पुलिस की इस बड़ी लापरवाही का आरोप लगाते हुए सपाईयों ने अस्पताल परिसर में धरना दे दिया। पंखुड़ी ने कहा कि सपा पदाधिकारी मांग करते करते हैं कि पुलिस के इस कृत्य के कारण प्रदेश सरकार को पूरे थाने को निलंबित कर देना चाहिये। इसी मामले के लिए हम लोगों ने धरना भी दिया है। वहीं पार्टी नेता अतुल प्रधान ने भी प्रदेश की भाजपा सरकार को इस मुद्दे पर घेरा और पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि इस मामले में प्रदेश सरकार को ठोस कदम उठाना चाहिये।

परिवार ने की सीबीआई जांच की मांग

घायल हुए युवक के भाई सुशील ने रविवार शाम को पत्रकार वार्ता में कहा कि उनका भाई जितेन्द्र अपने चार दोस्तों के साथ गाजियाबाद से सगाई की रस्म के बाद वापस नोएडा लौट रहा था। रास्ते में चेकिंग के दौरान सब इंस्पेक्टर विजय दर्शन ने उनकी गाड़ी को रोका और फर्जी मुठभेड़ दिखाने के मकसद से जितेंद्र को गोली मार दी। जितेन्द्र की दरोगा से पुरानी रंजिश है इसका बदला लेने के लिए गोली चलायी है। वहीं कार में मौजूद उसके दूसरे साथी किसी तरह बचकर उनके घर तक पहुंचे और घटना की जानकारी दी।

इस मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लव कुमार ने रविवार को आरोपी दरोगा सहित चार पुलिस कर्मियों को निलम्बित कर दिया गया हैं। निलम्बन होते ही आरोपी दरोगा विजय दर्शन को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसएसपी ने विभागीय जांच के आदेश दिये हैं लेकिन पीड़ित परिवार इस प्रकरण में सीबीआई जांच चाहती है और उन्होंने सभी आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग प्रदेश सरकार से की है।

Share it
Top