Home > Archived > गडï्ढों से वाहनों में हो रही टूट-फूट

गडï्ढों से वाहनों में हो रही टूट-फूट

गडï्ढों से वाहनों में हो रही टूट-फूट

कई बार मांग के बाद भी सेतु निगम ने नहीं करवाई मरम्मत

अशोकनगर, ब्यूरो।
नगर की जीवन रेखा कहे जाने वाले एक किलोमीटर के ओव्हर ब्रिज में कई खतरनाक गड्डे हैं। जिनके भरे नहीं होने से हर रोज यहां कई वाहन दुर्घटना ग्रस्त हो रहे हैं। रविवार को भी एक लोडिंग वाहन ब्रिज पर चढऩे के दौरान एक्सल टूटने से खराब हो गया। खराब वाहन कई घंटों तक ब्रिज पर खड़ा रहा। जिससे यातायात में अवरोध की स्थिति बनी। ब्रिज में लंबे समय से सेतु निगम द्वारा मरम्मत नहीं किए जाने लगातार खस्ताहाल होता जा रहा है। इसके लगभग हर ज्वाईंट पर बड़े-बड़े गड्डे हो गए हैं। ब्रिज से गुजरने के दौरान वाहन गड्डों में दचके आ जाने से खराब हो जाते हैं। जिससे कई बार जाम की स्थिति भी बन जाती है। गौरतलब है कि विदिशा रोड़ से मंडी जाने के लिए यह ब्रिज ही एकमात्र जरिया है। मंडी पहुंच मार्ग होने के कारण अनाज से भरे ट्रेक्टर-ट्रॉली और अन्य वाहन इसी से होकर गुजरते हैं वहीं ट्रकों की आवाजाही भी अधिक होती है। ऐसे में भरे हुए वाहनों का खराब हो जाना यातायात के लिए समस्या बन जाता है। ब्रिज पर जाम लगने के कारण लोगों के पास दूसरी ओर पहुंचने के लिए कोई विकल्प भी नहीं बचता है।

कई बार मांग के बाद भी नहीं चेता सेतु निगम:
ब्रिज की खस्ता हालत की मरम्मत के लिए कई बार जन प्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों ने आवाज उठाई है। कुछ महीनों पहले इसके गड्डे लोक निर्माण विभाग द्वारा मिट्टी डालकर भरवाए भी गए थे। लेकिन बारिश में मिट्टी बह जाने से गड्डे यथावत हो गए हैं। इसकी स्थाई मरम्मत के लिए शहर के जनप्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों ने सेतु निगम से पत्राचार भी किया है। लेकिन सेतु निगम का नजरिया इस ओर लापरवाही भरा ही रहा है। सेतु निगम की उदासीनता के चलते नगर के प्रमुख मार्ग पर लोगों को परशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

Share it
Top