Home > Archived > रावण ने अंतिम समय में कौन सी तीन बात बताई, पढ़िए पूरी खबर

रावण ने अंतिम समय में कौन सी तीन बात बताई, पढ़िए पूरी खबर

रावण ने अंतिम समय में कौन सी तीन बात बताई, पढ़िए पूरी खबर

स्वदेश वेब डेस्क। जी हाँ, आपको बता दें कि आज तक दुनिया में रावण जैसा कोई विद्वान पैदा ही नहीं हुआ। वह एक बहुत बड़ा महापंडित था। जब रावण मृत्यु सैय्या पर था तो भगवान राम ने भाई लक्ष्मण से कहा कि जाओ उनके पास और उनसे शिक्षा ले लो। फिर लक्ष्‍मण रावण के पास गए, लेकिन वह कुछ भी नहीं बोला। लक्ष्‍मण कुछ समय बाद वापस चले आए। और भगवान राम ने पूछा भाई लक्ष्‍मण से कि कुछ शिक्षा दी। तब लक्ष्मण ने कहा कि उन्होंने कुछ नहीं बोला, राम ने फिर आज्ञा दी कि आप फिर से जाओ। और कहा कि यदि किसी से ज्ञान लेना हो तो उसके चरणों में खडे होना चाहिए। न कि सिर के पास खड़े होना चाहिए। और लक्ष्‍मण फिर से रावण के पास पहुंचे। इसके बाद रावण ने लक्ष्‍मण को ये तीन बातें बताई और ये बातें आज भी कठोर सत्‍य हैं। इन बातों का पालन करें तो जीवन में कभी भी निराशा या विफलता हाथ नहीं लगेगी। जानिए ये तीन बातें जो रावण ने अंतिम समय में लक्ष्‍मण से बताई।


-जीवन में शुभ कार्य को कभी भी नहीं टालना चाहिए। जितना जल्‍दी हो सके उस शुभ काम को कर देना चाहिए। यदि देरी करेंगे तो परेशानी खड़ी होगी या फिर बाद में पछताना पड़ सकता है।
-कभी भी अपने प्रतिद्वंद्वी या शत्रु को छोटा नहीं आंकना चाहिए। ऐसा करेंगे तो आप हमेशा बेहतर करेंगे। कमतर आंकने पर आपको बहुत बड़ा नुकसान भी उठाना पडेगा।
-अंतिम बात यह कि अपना राज कभी भी किसी को भी मत बताओ। रावण का राज विभीषण जानता था। इसी तरह यदि आप अपने राज बताओगे तो आपको नुकसान उठाना ही पड़ेगा।

Share it
Top