Top
Latest News
Home > Archived > डेरा प्रमुख को मिली नई पहचान के साथ काम भी मिला

डेरा प्रमुख को मिली नई पहचान के साथ काम भी मिला

डेरा प्रमुख को मिली नई पहचान के साथ काम भी मिला

चंडीगढ़। डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को रोहतक की सुनारिया जेल में अब नई पहचान मिली है। डेरा प्रमुख को अब कैदी नम्बर 8647 के नाम से जाना जाएगा। यही नहीं डेरा प्रमुख अपनी सजा के दौरान जेल में क्या काम करेंगे? यह मंगलवार को तय होगा। डेरा प्रमुख को प्रतिदिन चालीस रुपये मजदूरी मिलेगी।
रोहतक के सुनारिया जेल के अधीक्षक सुनील सांगवान ने बताया कि डेरा प्रमुख को बीस साल की सजा तय होने के बाद उनको जेल में पहले दी गई पहचान 1997 को बदल दिया गया है। अब उनको कैदी नम्बर 8647 के नाम से जाना जाएगा। यही नहीं सजा के दौरान डेरा प्रमुख क्या जेल परिसर में माली का काम करेंगे या परिसर स्थित कारखाने में काम करेंगे? यह मंगलवार को तय किया जाएगा। इस दौरान प्रतिदिन डेरा प्रमुख को चालीस रुपये मेहनताना मिलेगा।

दो साध्वियों के यौन शोषण केस में सीबीआई की विशेष अदालत ने 28 अगस्त को सुनारिया जेल में लगी अस्थायी कोर्ट में डेरा प्रमुख को दस-दस साल की सजा सुनाई है। यह दोनों सजा साथ न चलकर, एक सजा खत्म होने के बाद दूसरी सजा शुरू होगी। मतलब डेरा प्रमुख को बीस साल की कैद हुई है। यही नहीं कोर्ट ने डेरा प्रमुख पर तीस लाख का जुर्माना भी लगाया है जिसमें पीड़िताओं को चौदह-चौदह लाख दिया जाएगा। दो लाख कोर्ट को दिया जाएगा।

Next Story
Share it
Top