Home > Archived > तिघरा का पर्यटन है बारिश के भरोसे

तिघरा का पर्यटन है बारिश के भरोसे

तिघरा का पर्यटन है बारिश के भरोसे

-तिघरा का जल स्तर बढ़ेगा तभी चलेगी जलपरी
-गर्मी के कारण नहीं आ रहे सैलानी,पर्यटन निगम को हो रहा नुकसान
ग्वालियर|
शहर के पर्यटन स्थल तिघरा डैम को अब बारिश का इंतजार है। जब बारिश होगी तभी सैलानियों की आवक बढ़ेगी। बारिश न होने से जलपरी और स्पीड बोट का संचालन कम ही किया जा रहा है। इस समय तिघरा पर इक्का-दुक्का सैलानी ही शाम के समय भ्रमण के लिए पहुंच रहे हैं,लेकिन पानी कम होने के कारण वह पर्यटन का भरपूर लुत्फ नहीं उठा पा रहे हैं। मध्यप्रदेश पर्यटन निगम का कहना है कि इस समय तिघरा पर जाने वाले पर्यटकों की संख्या बहुत कम हैं। इसका कारण बारिश का न होना है,लेकिन उम्मीद है कि जून माह के अंत तक बारिश होने पर तिघरा लबालब भर जाएगा और बोट क्लब पर्यटकों के आर्कषण का केन्द्र साबित होगा।

कम पानी में चल रहीं स्पीड बोट
अभी फिलहाल तिघरा बोट क्लब में एक जलपरी और तीन स्पीड बोट हैं। इनमें जलपरी का संचालन पानी ज्यादा होने पर होगा वहीं स्पीड बोट का संचालन निगम ने शुरू कर दिया है,पर पानी कम होने से पर्यटक इसमें ज्यादा रूचि नहीं ले रहे हैं। बताया जाता है कि पिछले कई सालों में जिले का मानसून बिगड़ा हुआ है। मौसम विशेषज्ञ बताते हैं कि मानसून जुलाई माह में प्रारंभ हो सकता है। इसके बाद ही तिघरा बोट क्लब पर पर्यटकों की आवक बढ़ सकेगी। तिघरा में जलस्तर बढ़ने से जनवरी अंत तक सैलानी इसका लुत्फ उठा सकेंगे।

पानी कम होने से पर्यटक हो रहे निराश
अभी वर्तमान में गर्मी के कारण तिघरा बोट क्लब सूना-सूना दिखाई दे रहा है। सुबह और शाम को पर्यटक बहुत ही कम संख्या में आ रहे हैं,पर तिघरा में पानी कम होने के कारण वे निराश होकर पर्यटन का भरपूर लुत्फ नहीं ले पा रहे हैं। हालांकि चारों तरफ फैली हरियाली उन्हें प्रभावित कर रही है,लेकिन गर्मी और उमस होने के कारण वे ज्यादा देर तक यहां नहीं रूक पा रहे हैं।

विदेशी पर्यटक कर रहे तौबा
इधर गर्मी की अधिकता के कारण विदेशी पर्यटक तिघरा बोट क्लब का भ्रमण करने से तौबा कर रहे हैं। मध्यप्रदेश पर्यटन निगम के एक रजिस्टर्ड गाइड ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि आगरा और खजुराहो से विदेशी पर्यटक ग्वालियर आ रहे हैं लेकिन किला और अन्य ऐतिहासिक धरोहरों के भ्रमण के बाद तिघरा जाने से परहेज कर रहे हैं। इसका बड़ा कारण यह भी है कि निगम के रेस्ट्रोरेंट में विदेशी सैलाानियों के स्तर की इतनी ज्यादा सुविधाएं नहीं हैं।
इनका कहना है
बारिश का इंतजार है। बारिश आने के बाद तिघरा पर पर्यटकों की आवक बढ़ेगी। अभी फिलहाल स्पीड बोट शुरू कर दी गई हैं।

एमएस राणा
क्षेत्रीय प्रबंधक,मध्यप्रदेश पर्यटन निगम

Share it
Top