Home > Archived > लाखों की लागत से तैयार शमशान घाट हो रहा जर्जर

लाखों की लागत से तैयार शमशान घाट हो रहा जर्जर

झांसी। नगर निगम द्वारा शहर के शमशान घाट व कब्रिस्तानों के लिये करोड़ों रुपये के टेण्डर किये गये थे और इसमें शमशान घाट व कब्रिस्तानों का सौन्दर्यीकरण किया गया। महापौर किरन वर्मा द्वारा शहर के शमशान घाट व कब्रिस्तानों को चिन्हित कराया गया था और इस मामले में सदन की बैठक में भी इनके सौन्दर्यीकरण को लेकर मंथन किया गया। जिस पर सौन्दर्यीकरण कार्य के लिए स्वीकृति भी हुई।

शहर में 13 शमशान घाट व 6 कब्रिस्तानों की रुपरेखा बदलने के लिये प्रयास शुरु हो गया और इस प्रयास से एक शमशान घाट पर लाखों रुपये की लागत लगाकर उसे सुंदर रुप दिया। जिसमें नगर निगम का करोड़ों रुपये खर्च हुआ। लेकिन इस व्यवस्था पर नगर निगम महापौर द्वारा तेजी से प्रयास करने के बाद इसकी देखरेख के लिये क्षेत्रीय पार्षदों को एक कमेटी बनाने के लिये भी कहा गया था, जिससे कि शमशाम घाट व कब्रिस्तानों की देखभाल कमेटी के संरक्षक में होती रहे।
हंसारी क्षेत्र में स्थित एक शमशान घाट के सौन्दर्यीकरण पर लगभग 28 लाख रुपये खर्च किये गये थे। लेकिन आज इस शमशान घाट की हालात कुछ अराजकतत्वों द्वारा जर्जर कर दी गई है। जबकि इसकी जिम्मेदारी क्षेत्रीय पार्षद की बनती है।

जिसमें शमशामघाट का सौन्दर्यीकरण बनाये रखने के लिये एक कमेटी बनाना थी। लेकिन ऐसा नहीं होने पर लाखों रुपये की लागत से तैयार शमशानघाट पुन: अपनी जर्जर स्थिति में आ सकते हैं जिससे सरकार का करोड़ों रुपये व्यर्थ में जा सकता है। इस व्यवस्था के लिये क्षेत्र के गणमान्यों को आगे आना होगा, तब कहीं सौन्दर्यीकरण बचाया जा सकता है।

Share it
Top