Home > Archived > कैलाश खेर के साथ पी एस छतवाल ने सेलिब्रेट किया "कैलासा" का एक दशक

कैलाश खेर के साथ पी एस छतवाल ने सेलिब्रेट किया "कैलासा" का एक दशक

कैलाश खेर के साथ पी एस छतवाल ने सेलिब्रेट किया कैलासा का एक दशक

मार्टिन लूथर किंग ने कहा था की दुनिया में भगवान के वचन के बाद सबसे महानत संगीत की कला है और ये बात कैलाश खैर जैसे संगीतकार और उनका संगीत बैंड ‘कैलासा’ ने चरितार्थ की है, पिछले एक दशक से यादगार कार्यक्रम कैलासा आयोजित कर रहे कैलाश खेर संगीत में मंथन कर संगीत के रास्ते पर चलना निरंतर जारी रखे हुए है।

कैलाश खेर के प्रतिष्ठित कार्यक्रम कैलासा के सफलता पूर्वक एक दशक पूरा होने एवं उनको मिले प्रतिष्ठित पद्म श्री अवार्ड के उपलक्ष्य में टार्क फार्म के एमडी एवं चेयरमैन श्री पी. एस. छतवाल एवं फिल्मी क्रीड़ा प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड ने एक यादगार कार्यक्रम का आयोजन किया जिसमे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री देवेन्द्र फडनवीस, श्री मति अमृता फडनवीस, रोनित रॉय, अस्मित पटेल, ऋचा सिन्हा, आरती छावरिया, राजू श्रीवास्तव, गायक शान, अलका याग्निक, कुमार शान, अनूप जलोटा, अरमान मलिक, अमाल मलिक, उदित नारायण, मिथुन, मनमोहन शेट्टी, पूनम ढिल्लन, प्रसून जोशी, कृषिका लुल्ला निदेशक अनानद, हदी आदि विशिष्ट अतिथि उपस्थित थे।
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री श्री देवेन्द्र फडनवीस ने कैलाश खेर को मिले प्रतिष्ठित पद्मश्री अवार्ड एवं उनके बैंड कैलासा को एक दशक पूरे होने पर बधाईयाँ दी और कहा की यह पुरुष्कार आमतौर पर अपने कार्य से सेवानिवृत होने के पश्चात विशिष्ट जनों को दिया जाता है लेकिन मैं कहना चाहूँगा की यह आपकी यात्रा की शुरूआत है, मैं आपके संगीतों को लम्बे समय तक सुनने की आशा करता हूं।

श्री छतवाल जी ने कहा की जगजीत सिंह जी के निधन के बाद से ही हम अपने स्टार उत्पाद टोरेक्स कफ सिरप के प्रचार हेतु उस सुरीली आवाज को ले सके उसको खोजना अत्यंत कठिन था लेकिन एक दिन कैलाश खेर जी का गीत तेरी दीवानी... को सुनना हुआ उसके बाद हमारी खोज खत्म हुई। कैलाश जी देश के चुनिन्दा सूफी संगीतज्ञ है और संगीत के मणि है। मुझे खुशी है की हमारी सेलेब्रिटी एंडओर्सर और टार्क की अहम संपत्ति सूफी गायक कैलाश खेर जी को पद्मश्री पुरुष्कार मिला।

वही कैलाश खेर ने कहा की मेरे संगीत जीवन की शुरूआत बहुत ही विनम्रता से हुई और और मैंने जो कुछ पाया है उसको लेकर कभी कभी विश्वास भी नहीं कर पाता और उसी के साथ आगे भी बढ़ा हूं। मुझे तो ये चमत्कार ही लगता है मुझे वो दिन याद है जब मैंने परेश और नरेश को कैलासा बनाने के लिए मुलाकात की थी, वह एक खुबसूरत पल था और कभी नही सोचा था की कैलासा को आप समस्त जन इतना पसंद करेंगे। अब यह एक विशाल परिवार का आकार ले चुका है। कैलासा की यात्रा में वास्तव में हमारे सभी बैंड सदस्यों का साथ रहा और आप सभी की शुभकामनाओं की बदौलत यह मुकाम हासिल किया है। मेरी जिंदगी का हिस्सा मेरे शुभचिंतकों ने हमेशा मेरा सहयोग किया है और पूरी दुनिया में फैले मेरे प्रशंसकों ने मुझे अच्छा करने के लिए दुआएं और ढेर सारा प्यार दिया है। कैलासाह्व बैंड ने जो भी सफलता हासिल की है उसमे सभी का सहयोग और दुआएं है, मैं कृतज्ञता के साथ भगवान एवं माता-पिता जी का शुक्रिया अदा करता हूं। श्री छटवाल जी के बारे में बात करते हुए कैलाश खेर जी ने कहा की वे साधारण उद्धमी नहीं है मैं उनको पिता तुल्य समझता हूं वो वेहद सोम्य है और विलक्षण व्यक्तित्व के धनी हैं। अपने पूरे व्यापार को सफलतापूर्वक संचालित कर रहे है एक प्रेरणात्मक यात्रा के साथ ऐसे विशिष्ट व्यक्ति हमेशा सभी के लिए एक उदहारण है।

"जल" के बारे में...

मानवता को बचाने एवं उनका इलाज करने के लिए हम व्यवसाय चला रहे है हम इस तथ्य पर गर्व महसूस करते है की हमारी दवाइयां हर साल लाखों लोगो का इलाज कर बचाती है एक उद्यमी के लिए मुनाफा व्यवसाय को चलने के लिए जरुरी है लेकिन मुनाफा ही एक मात्र यह दृष्टि नहीं होनी चाहिए साथ ही हमारी मीलों में सूत की बुनाई होती है जो साथी भारतीयों के लिए कपड़े बनाने के लिए उपयोग में लायी जाती है। स्वास्थ्य के प्रति चिंता को ध्यान में रखते हुए भारतीयों को स्वच्छ जल पीने को मिले इसलिए ‘जल’ अस्तित्व में आया है। पानी एक प्राकृतिक खनिज है और जल को हमारे द्वारा हिमालय की तलहटी में 1000 फीट से अधिक गहरी ट्यूब से निकाला जाता है इसमें उपयोग किये जाने वाले समस्त उपकरण अमेरिका की कंपनी जॉनसन द्वारा आपूर्ति की है। आधुनिक संयंत्र में अन्तराष्ट्रीय मानकों को ध्यान में रखते हुए जल को मानव रहित मशीनों द्वारा फिल्टर किया जाता है और पैक किया जाता है बिना किसी रासायनिक क्रिया से निर्मित जल सबसे स्वस्थ शुद्ध पीने योग्य पानी है।

Share it
Top